मंगलवार, 9 जनवरी 2018

सूरतगढ़: फुटपाथों के अतिक्रमण जेसीबी मशीनों से तोड़़ने शुरू

- करणीदान सिंह राजपूत  -

 नगरपालिका की ओर से आज 9 जनवरी को दुकानों के आगे फुटपाथों के अतिक्रमण जेसीबी मशीनों से तुड़वाने शुरू किए गए।

 नगर पालिका अधिशासी अधिकारी जुबेर खान की ओर से 30 दिसंबर 2017 को 3 दिन की अवधि देते हुए दुकानदारों को स्वयं ही अतिक्रमण हटाने का कहा गया लेकिन दुकानदारों ने अपनी इच्छा से अतिक्रमण नहीं हटाए। पालिका प्रशासन की ओर से रेलवे स्टेशन से महाराणा प्रताप चौक और सिकंदर ज्वेलर्स से सुभाष चौक( दोनों ओर के​ ) अतिक्रमण हटाने का प्रेस में समाचार दिया गया था।

 यह अवधि बीतने के बाद 3 जनवरी से अतिक्रमण हटाने थे। अतिक्रमण हटाने से पहले भारी बंदोबस्त किया जाना जरूरी समझा गया।

 नगर पालिका ने घोषणा में लिखा था कि दुकानदारों ने अतिक्रमण खुद नहीं हटाए और नगर पालिका ने हटाए तो नगर पालिका अतिक्रमण हटाने का खर्चा नियमानुसार वसूल करेगी।

विदित रहे की मुख्य बाजार से रेहड़ियां हटाए जाने के दुकानदारों की मांग के बाद उपजे संघर्ष में रेहड़ी वालों की ओर से भी मांग रखी गई थी की दुकानों के आगे के समस्त अतिक्रमण हटवाए जाएं। दुकानदार किसी भी रुप में सड़क और फुटपाथ पर सामान रखकर भी अतिक्रमण न करें। 

 रेहड़ी वालों की ओर से सुभाष चौक पर निरंतर धरना और क्रमिक अनशन अभी भी शुरू है।

 रेहड़ी वालों की ओर से मांग है कि मुख्य बाजार में रेहड़ियां नहीं लगाई जाए तो अन्य स्थान नियत किया जाए।

 विशेष बात यह है कि प्रशासन ने​ केवल फल और सब्जियों की रेड़ियां हटाई जबकि खोमचे वालों की रेहड़ियों जिनकी संख्या 50-60  और अन्य प्रकार की रेहड़यां जिन पर जुराबें टॉपे आदि बेचे जाते हैं उनकी संख्या 10 -15 के करीब है, को नहीं हटाया।









कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें