सोमवार, 29 जनवरी 2018

अजमेर उपचुनाव में मतदान का रुख कांग्रेस की ओर-स्पेशल रिपोर्ट

29 जनवरी को सायं 6 बजे अजमेर के लोकसभा उपचुनाव के लिए मतदान पूरा होने जा रहा है। मतदान के कुछ समय पहले तक जो रुख सामने आया है उससे प्रतीत होता है कि इस बार कांग्रेस का पलड़ा भारी है। कांग्रेस के पलडे़ को भारी करने में राजपूत, मुसलमान और ब्राह्मण मतों की भूमिका रही है। 

राज्य की सीएम वसुंधरा राजे और भाजपा के विधायकों के प्रति नाराजगी का लाभ भी कांग्रेस को मिला है। पूर्व के चुनावों में मतदान केन्द्रों के बाहर कांग्रेस की टेबलों पर सूनापन रहता था। वहां आज कांग्रेस की टेबल पर मतदाताओं से आबाद नजर हुई। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को भी अजमेर संसदीय क्षेत्र की आठों विधानसभा क्षेत्र के मतदान केन्द्रों पर उत्साह से देखा गया। अजमेर शहर के कई मतदान केन्द्रों पर तो भाजपा के एजेंट मतदान शुरू होने के बाद पहुंचे। हालांकि भाजपा ने पन्ना प्रभारी तक की रणनीति बनाई थी, लेकिन शहरी क्षेत्रों में ही मतदाताओं से सम्पर्क नहीं हो सका। गत लोकसभा के चुनाव में अजेमर संसदीय क्षेत्र से भाजपा करीब पौने दो लाख मतों से विजयी हुई थी, लेकिन उपचुनाव में भाजपा में ऐसा जोश देखने को नहीं मिला। ग्रामीण क्षेत्रों में जाट बहुल्य क्षेत्रों में भाजपा को एक मुश्त वोट मिले, लेकिन वहीं अन्य जातियों ने लामबंद होकर कांग्रेस के पक्ष में मतदान किया। इस बार बड़ी संख्या में मतदाताओं ने नोटा का भी बटन दबाया है। माना जा रहा है कि नोटा का बटन दबाने वाले मतदाता भाजपा की विचारधारा वाले हैं। जो मतदाता किसी भी स्थिति में कांग्रेस को वोट नहीं देना चाहते, उन्होंने विकल्प के तौर पर नोटा को चुना है। नोटा का बटन दबने का खामियाजा भी भाजपा को ही उठाना पड़ेगा।

भाजपा का अभी भी जीत का दावाः

भाजपा के उम्मीदवार रामस्वरूप लाम्बा का दावा है कि इस उपचुनाव में सीएम राजे ने जो मेहनत की है, वह बेकार नहीं जाएगी। मेरी जीत निश्चित है। मेरे पिता स्वर्गीय सांवरलाल जाट ने लोकसभा का पिछला चुनाव करीब पौने दो लाख मतों से जीता था। इस बार मैं इससे भी ज्यादा वोटों से विजयी होगा। मुझे भाजपा के कार्यकर्ताओं की मेहनत पर भरोसा है। मुझे मतदान के दौरान मतदाताओं से कोई नाराजगी नहीं दिखी। लोगों ने पीएम नरेन्द्र मोदी और सीएम वसुंधरा राजे की विकास योजनाओं को देखते हुए अपना वोट दिया है।

यह आम व्यक्ति की जीत होगी-रघु शर्मा

मतदान के दौरान कांग्रेस के उम्मीदवार रघु शर्मा बेहद ही उत्साहित नजर आए। रघु शर्मा ने केकड़ी में अपनी पत्नी के साथ वोट डाला और बाहर आकर मीडिया से कहा कि यह जीत आम व्यक्ति की जीत होगी। लोगों को भाजपा सरकार की नाकामियों के खिलाफ वोट दिया है। रघु ने शांतिपूर्ण मतदान के लिए मतदाताओं का आभार जताया।

(एस.पी.मित्तल)



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें