बुधवार, 24 जनवरी 2018

राजस्थान में 10 संसदीय सचिवों को अयोग्य घोषित करने की मांग





जयपुर दिनांक 22.01.2018

राजस्थान आम आदमी पार्टी ने राजस्थान सरकार के लाभ के पद संसदीय सचिव पद पर आसीन विधायकों को अयोग्य घोषित करने के लिए मुख्य चुनाव आयुक्त रेखा गुप्ता को ज्ञापन सौंपा।

आम आदमी पार्टी   राजस्थान ने आज  लीगल सेल हेड पी. सी. भंडारी ( Poonam Chand Bhandari ) जी के नेतृत्व में  आज जयपुर में मुख्य चुनाव आयुक्त को ज्ञापन सौपा। ज्ञापन के माध्यम से आम आदमी पार्टी ने राजस्थान में लाभ के पद पे आसीन विधायकों की संसदीय सचिव की नियुक्ति निरस्त करने की मांग की।

विधि प्रकोष्ठ अध्यक्ष पूनम चंद भंडारी ने बताया कि राजस्थान सरकार में 10 संसदीय सचिव बनाये हुए है जो कि नियमानुसार अवैध है और यह सविंधान के अनुच्छेद 164(1) का उल्लंगन है । उन्होंने बताया कि ये सभी विधायक सरकारी बंगला गाड़ी तथा भत्ते के रूप में लाभ प्राप्त कर रहे है। अतः यह लाभ के पद पर आसीन है अतः  जो भी विधायक संसदीय सचिव नियुक्त किये गए है उनकी नियुक्ति तुरंत प्रभाव से निरस्त की जाए अथवा विधायक को अयोग्य घोषित किया जाये। 

ज्ञापन देते समय श्री ईश्वर सिंह जी ,कमलेश सक्सेना जी, चंदन लालवानी, विवेक जोशी, बेला शर्मा जी,अब्दुल सलाम मनिहार , मोहम्मद आसिफ दौड़ी, प्रदीप कटारिया, अजय धानका, संजय शर्मा जी, इंद्रजीत कथूरिया जी, महेंद्र सिंह जी ,   अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

विदित रहे कि चुनाव आयोग ने दिल्ली के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया है। हरियाणा के 4 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग उठी हुई है।


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें