Tuesday, December 12, 2017

निरोध विज्ञापनों का चैनलों पर समय तय: बाल निगाहों​ से बचाने का प्रयास

भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने टीवी चैनलों को निरोध के विज्ञापन दिखाने के लिए सलाह जारी कर अच्छा कदम उठाया है।


 इस एडवाइजरी में साफ तौर पर कहा गया कि कंडोम के विज्ञापन दिन के समय न दिखाए जाएं बल्कि इन्हें रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक ही दिखाया जाए। 

इस एडवाइजरी को मंत्री स्मृति ईरानी के नेतृत्व वाले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने जारी करते हुए कहा कि इस नियम के पालन ऐेसे कंटेट को बच्चों तक पहुंचे जाने से रोका जा सकेगा साथ ही केबल टेलीविजन नेटवर्क नियम, 1994 में निहित प्रावधानों का सख्ती से पालन हो सकेगा। दरअसल कुछ चैनल दिन में और शाम में कई बार कंडोम का विज्ञापन चलाते हैं, जोकि बच्चों के लिए ठीक नहीं है। वहीं नियम 7 (8) कहता है कि विज्ञापनों में अनुचित, अश्लील, डरावना या अपमानजनक विषय या वर्णन नहीं होना चाहिए। 

इन सारी बातों को ध्यान में रखकर सभी टीवी चैनलों को ये सुझाव दिया जाता है कि ऐसे कंडोम विज्ञापन जो एक विशेष आयु वर्ग के लिए बनाया गया है और बच्चों के लिए अनुचित है उसे टेलीकास्ट ना करें। सरकार ने कहा है कि उसका फैसला इस नियम पर आधारित है कि ऐसे किसी विज्ञापन को दिखाने की अनुमति ना दी जाए जो 'बच्चों की सुरक्षा को खतरे में डालें या उन्हें अस्वास्थ्यकर प्रथाओं में कोई दिलचस्पी' बनाने को प्रेरित करें। इसमें उन नियमों का भी उल्लेख किया गया है जो 'अशिष्ट, अश्लील, विचारोत्तेजक, घृणित या आक्रामक विषयों' को प्रतिबंधित करता है।


No comments:

Post a Comment

Search This Blog