Thursday, December 7, 2017

सूरतगढ़ श्रीगंगानगर हनुमानगढ इलाके में भयानक ठंड 'ठार्री' शुरू:


- करणीदानसिंह राजपूत -

इस 2017 के सर्द मौसम की भयानक शीत जिसे बोलचाल की भाषा में ठार्री कहा जाता है शुरू हो चुकी है।

 इसमें तेज हवाएं नहीं चलती बल्कि बदन को बेहद ठंडा करने वाली बहुत अधिक ठंड होती है। दिन में सूर्य निकलने के बावजूद भी यह ठंड कायम रहती है और रात को बहुत अधिक बढ़ जाती है।अभी सर्दी की वर्षा नहीं हुई है। इसे सूखी सर्दी कहा जाता है जो रोगों को आमंत्रित करती है। 

वृद्ध अवस्था के लोगों के लिए यह ठंड खतरनाक होती है।

 घर से बाहर निकलते वक्त यात्रा में अपना बचाव करने वाले समुचित साधन और वस्त्र अवश्य होने चाहिए।

 लोग यात्रा में होते हैं उन्हें कई बार रेलों और बसों के मेल नहीं होने पर व्यवधान में धर्मशालाओं और होटलों में रूकना पड़ता है इसलिए घर से बाहर निकलते वक्त घर के हर सदस्य का पहचान पत्र अवश्य साथ में रखें। क्योंकि बिना पहचान के धर्मशालाओं और होटलों में ठहरने का प्रबंध नहीं हो पाता। हर जगह प्रत्येक व्यक्ति की अलग पहचान मांगी जाती है।यहां तक की रैन बसेरों में भी पहचान पत्र मांगा जाने लगा है। यह सुरक्षा के लिए किया प्रबंध है।


No comments:

Post a Comment

Search This Blog