गुरुवार, 9 नवंबर 2017

तृतीय युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव

श्रीगंगानगर, 9 नवम्बर। राजस्थान युवा बोर्ड युवा मामले एवं खेल विभाग द्वारा तृतीय युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। खोज महोत्सव का मुख्य उद्देश्य कला जगत में उभरते युवा सितारों की तलाश करना है। 

जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने बताया कि सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव में विभिन्न (समूह लोक गायन, समूह लोक नृत्य, शास्त्रीय एकल गायन, शास्त्रीय नृत्य, शास्त्रीय उपकरण गायन, नाटक और आशुभाषण, राजस्थान की लुप्त कलायें जैसें- फड़ चित्रकला, रम्मत, भित्ती चित्रकला, लंघा मांगणीहार, रावण हत्था, अलगोजा आदि) सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं आयोजित की जायेगी। महोत्सव में 15 से 29 वर्ष के युवा भाग ले सकेंगें। अध्ययनरत एवं गैर अध्ययनरत युवा भाग लेगें।

 प्रतियोगिता में भाग लेने के लिय, निर्धारित पत्र में पंजीयन करना होगा। प्रथम विजेता दल को राष्ट्रीय युवा महोत्सव में भाग लेने की प्राथमिकता दी जावेगी। 


प्रतियोगिताएं का आधार


राष्ट्रीय युवा महोत्सव में राज्य स्तरीय विजेता दल, राज्य स्तरीय, संभाग स्तरीय 28 से 30 नवम्बर 2017 तक, जिला स्तरीय 21 से 24 नवम्बर 2017 तक, ब्लॉक स्तरीय युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव 15 से 17 नवम्बर 2017 तक तथा चयनित ग्राम पंचायत युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव 10 नवम्बर 2017 तक रहेगा। 


उद्देश्य


तृतीय युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव का उद्देश्य माननीय मुख्यमंत्री महोदय की बजट घोषणा के क्रियान्वयन, युवाओं में उभरते कला सितारों की तलाश, राज्य के दुर्लभ एवं लुप्त कला को संर्वधन, संरक्षण एवं प्रोत्साहन करना तथा पारंपरिक एवं ग्रामीण कलाओं को प्रचारित करना है। 


लक्ष्य


तृतीय युवा सांस्कृतिक प्रतिभा खोज महोत्सव का लक्ष्य राज्य के प्रतिभाशाली युवा कलाकारों की खोज करके, उन्हें प्रशिक्षण एवं छात्रावृति की सुविधा देकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन हेतु तैयार करके उनको स्वावलम्बी बनाना है। 

--------


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें