बुधवार, 8 नवंबर 2017

जेल में बंद रह चुके घोटाले बाज अधिकारी पवन को बहाल किया

जयपुर। प्रदेश सरकार ने जयपुर। प्रदेश सरकार ने NRHM घोटाले के आरोप में 8 महीने जेल में रह चुके नीरज के पवन को बहाल कर दिया। पवन को भ्रष्टाचार के गंभीर मामले में 30 मई 2016 को एंटी करप्शन व्यूरो की टीम ने गिरफ्तार किया था। जिसके बाद नीरज कुल 8 महीने तक जेल में रहे हैं। फिलहाल आईएएस अधिकारी नीरज के पवन जमानत पर जेल से बाहर है।

पवन की बहाली को मुख्यमंत्री कार्यालय से हरी झंडी मिल चुकी है। लेकिन अभी उनको पोस्टिंग नहीं दी जाएगी प्रदेश सरकार ने इससे पहले 4 अगस्त को गंभीर मामले में आरोपी होने के बावजूद  एक अधिकारी को बहाल कर दिया था। जिसके बाद से ही नीरज के पवन की बहाली के कयास लगाए जा रहे थे। NRHM घोटाला मामले में आरोपी नीरज के पवन की बहाली कई सवाल खड़े कर रही है।

एक तरफ प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने की बात कहती है तो वही दूसरी तरफ भ्रष्टाचारियों को बहाल कर देती है। मामले को बढ़ता देख बहाल किए गए आईएएस नीरज के पवन को पोस्टिंग नही देने की बात कही जा रही है।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पास भ्रष्टाचार निरोधक विभाग है कई अधिकारियों को बहाल किया जा चुका है। इससे अनुमान लगा सकते हैं कि प्रदेश की सरकार भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने वाली है या भ्रष्टाचारियों को पकड़े जाने के बावजूद सरंक्षण देने वाली है।





कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें