Tuesday, November 21, 2017

गुजरात पूर्व सांसद कांजी भाई पटेल व बेटे सुनील ने भाजपा छोड़ी

गुजरात में टिकट बंटवारे से नाराज होकर बीजेपी के एक और पूर्व सासंद कांजी भाई पटेल और उनके बेटे सुनील पटेल ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। सुनील पटेल ने नवसारी जिले के गंडवी विधासभा सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है।

गुजरात में उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी होन के बाद से ही बीजेपी में कोहराम मचा हुआ है और स्थानीय नेताओं के इस्तीफा देने का सिलसिला शुरू हो गया है।

पहली लिस्ट जारी होने के तुरंत बाद अंकलेश्वर विधानसभा सीट से टिकट पाने वाले उम्मीदवार के सगे भाई और भरुच जिला पंचायत के सदस्य वल्लभ पटेल ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया था।

वल्लभ पटेल ने अपने लिए टिकट मांगी थी लेकिन भाई को टिकट मिल जाने की वजह से नाराजगी में उन्होंने पार्टी से किनारा कर लिया।

पहली सूची जारी होने के तुरंत बाद ही डांग बीजेपी के जिला महामंत्री दशरथ पुवार ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। विजय पटेल को डांग से उम्मीदवार बनाए जाने पर दशरथ पुवार ने नाराजगी जाहिर की थी।

गुजरात में बीजेपी के प्रवक्ता आईके जडेजा को टिकट नहीं मिलने पर उनके समर्थकों ने बीजेपी के दफ्तर पर ही हमला बोल दिया था। जडेजा के समर्थन में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में भी जमकर बवाल काटा था।

राज्य के वरिष्ठ बीजेपी नेता प्रभात सिंह ने भी टिकट नहीं मिलने के बाद अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। उन्होंने अपनी पत्नी के लिए पार्टी से टिकट मांगा था।

बीजेपी से टिकट नहीं मिलने पर प्रभात सिंह ने कालोल विधानसभा सीट से अपनी पत्नी को निर्दलीय ही चुनाव में उतारने का ऐलान कर दिया है।

उम्मीदवारों की लिस्ट सामने आने के बाद बीजेपी सांसद लीलाधर वाघेला ने भी अपने बेटे के लिए टिकट नहीं मिलने के बाद नाराजगी जाहिर की थी। वाघेला के समर्थको ने भी बीजेपी दफ्तर में जमकर हंगामा किया था। बीजेपी अबतक 106 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर चुकी है।

21.11.2017.

No comments:

Post a Comment

Search This Blog