Thursday, November 23, 2017

आरएएस अधिकारी द्वारा कलेक्टर पर अपहरण कराने का आरोप: खुद की हत्या होने का डर-




डूंगरपुरजिला परिषद के सीईओ और आरएएस अकरांनरी परशुराम धानका ने जिला कलेक्टर पर सनसनीखेज आरोप जड़कर ब्यूरोक्रेसी को हिला दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि कलेक्टर आवास पर उनके अपहरण की कोशिश की गई, लेकिन पुलिस प्रशासन के स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। 


राजस्थान प्रशासनिक सेवा 1998 बैच के अफसर परशुराम धानका ने आरोप लगाया है कि कुछ बदमाशों ने कलेक्टर के आवास से ही उनका अपहरण करने की कोशिश की। उन्हें जबरन जीप में बैठा लिया गया। वे बमुश्किल जान बचाकर भागे और जयपुर पहुंचे। हालांकि, अब धानका का मोबाइल स्वीच ऑफ रहा है। 


(गौरतलब है कि गत 14 जुलाई को बांसवाड़ा के कुशलगढ़ एसडीएम रामेश्वरदयाल मीणा भी रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान गायब हो गए थे। उनका शव 10 किलोमीटर दूर 3 दिन बाद मिला था। परिजनों ने उनकी हत्या का आरोप लगाया था। )


इस झगड़े की असल कहानी ये तो नहीं... 


विवादकी वजह डूंगरपुर की पंचायतों में थर्ड ग्रेड टीचर की भर्ती से जुड़ा है। एक साल पहले पंचायतों में महिला आरक्षण का गलत तरीके से फायदा देकर 25 से 30 भर्तियां करने पर विवाद खड़ा हुआ था। उस समय धानका ही जिला परिषद के सीईओ थे। उन पर धांधली के आरोप लगे थे। गड़बड़ी पकड़े जाने पर गलत भर्ती वाले अभ्यर्थियों को हटा दिया गया था। तब उन लोगों ने कोर्ट से स्टे ले लिया। दूसरी तरफ वास्तविक दावेदार बताने वाले अभ्यर्थी अब तक लगातार आंदोलन पर हैं। उन्हीं पर सीईओ को धमकाने या अपहरण करने का अारोप लगाया जा रहा है। 

+++++

धानका को पदस्थापन की प्रतीक्षा में रखने को कहा है : सीएस 


मुख्यसचिव अशोक जैन ने कहा कि आरएएस परशुराम धानका द्वारा दिया रिप्रजेंटेशन मुझे मिल चुका है। धानका को तुरंत प्रभाव से एपीओ करने के लिए कार्मिक विभाग को आदेश दे दिया है। उच्च स्तरीय जांच कराने को लेकर अभी सरकार का कोई विचार नहीं है। पंचायतीराज सचिव नवीन महाजन ने कहा कि धानका की शिकायत मिल चुकी है। इस पर उचित कार्रवाई के लिए कार्मिक विभाग को भेजा जा रहा है। 

+++

डूंगरपुरके कलेक्टर राजेंद्र भट्‌ट ने कहा कि सीईओ परशुराम धानका बिना बताए गायब हैं। इसके लिए उन्हें 17 सीसीए का चार्जशीट जारी किया जा रहा है। जहां तक अपहरण की बात है, कलेक्टर के आवास से ऐसी घटना की कोई कल्पना भी नहीं कर सकता। चार्ज शीट से बचने के लिए वे नाटक कर रहे हैं। 

+++

जयपुर में डाला डेरा, सीएस से मिले, कहा- मेरा ट्रांसफर कर दीजिए _धानका


डूंगरपुरछोड़कर जयपुर पहुंचे धानका ने मुख्य सचिव अशोक जैन और पंचायतीराज सचिव नवीन महाजन को रिप्रजेंटेशन दिया है कि डूंगरपुर से तुरंत उनका तबादला नहीं किया गया तो कभी भी उनका अपहरण कर हत्या की जा सकती है। वे डूंगरपुर को छोड़कर जयपुर में ही कैंप किए हुए हैं। 

**********************


No comments:

Post a Comment

Search This Blog