शनिवार, 2 सितंबर 2017

पंचकूला हिंसा में राजस्थान के डेरा सच्चा सौदा समर्थक भी गिरफ्तार:

चंडीगढ़, 1 सितंबर

डेरा मुखी को सजा सुनाए जाने के बाद पंचकूला में हुई हिंसा के मामले में रोजाना नये खुलासे हो रहे हैं। 25 अगस्त को पंचकूला में हुई आगजनी व हिंसा की वारदातों की पटकथा पहले से ही तैयार थी। यही नहीं, शहर में हुई तोड़फोड़ व आगजनी के लिए भी दूसरे राज्यों के समर्थकों का सहारा लिया गया।

हरियाणा पुलिस द्वारा अभी तक इस मामले में प्रदेशभर में कुल 962 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हैरानी वाली बात यह है कि इसमें से 723 लोग दूसरे राज्यों से यहां पहुंचे हुए थे। पुलिस ने 25 अगस्त को हुई हिंसा के बाद ही उपद्रवियों को पकड़ने की कार्रवाई शुरू कर दी थी। इसी वजह से ये लोग गिरफ्त में आ गए, नहीं तो इसमें से अधिकांश अपने-अपने राज्यों में लौट चुके होते।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों में सबसे अधिक पंजाब के हैं। पंजाब के रहने वाले 411 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इसी तरह से हरियाणा के 239 डेरा समर्थकों को हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। राजस्थान के 155, उत्तर प्रदेश के 101 और दिल्ली के 52 लोगों को भी पुलिस ने पकड़ा है। चंडीगढ़ के रहने वाले तीन और उत्तराखंड के एक व्यक्ति को भी पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस अब इस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

प्रारंभिक जांच में यह भी साबित हो गया है कि खुद डेरामुखी ने पंचकूला में हिंसा के लिए अपने समर्थकों को कोड दिया हुआ था। दोषी ठहराए जाने के तुरंत बाद उन्होंने अपनी गाड़ी से लाल रंग का बैग मंगवाया। राज्य पुलिस अपनी जांच के दौरान यह मानकर चल रही है कि लाल बैग बाहर जुटे समर्थकों को यह बताने का इशारा था कि अब हिंसा की शुरुआत कर दें। इसके तुरंत बाद पंचकूला में आगजनी व तोड़फोड़ की घटनाएं शुरू हो गई। पकड़े गए आरोपियों से पुलिस गहन पूछताछ कर रही है ताकि कड़ियों को जोड़कर इस साजिश का पूरी तरह से पर्दाफाश किया जा सके।

(दैनिक ट्रिब्यून)


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें