गुरुवार, 24 अगस्त 2017

पंचकूला में हजारों डेरा समर्थकों के जमा होने​ पर हाईकोर्ट की सरकार को फटकार

24अगस्त। प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह पर आने वाले फैसले के मद्देनजर पंचकूला में बढ़ रही डेरा समर्थकों की भीड़ पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने सरकार को जमकर फटकार लगाई है. कोर्ट ने कहा कि यदि वहां धारा 144 लगाई गई है, तो लोग कैसे एकत्रित हो रहे हैं. क्यों न डीजीपी को डिसमिस कर दिया जाए. जरूरत पड़े तो आर्मी को तैयार रखा जाए.

वकील रविंद्र धुल द्वारा दायर जनहित याचिक पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कहा केंद्र और राज्य सकार द्वारा सुरक्षा व्यवस्था पर रिपोर्ट मांगी है. इसके साथ ही डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को भी नोटिस जारी करते हुए कोर्ट ने उनसे कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में सहयोग के बारे में पूछा है. इसके बाद डेरा प्रमुख बयान भी आया है.

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह ने ट्विटर पर लिखा, 'हमनें सदा कानून का सम्मान किया है, हालांकि हमारी पीठ में दर्द है, फिर भी कानून की पालना करते हुए हम कोर्ट ज़रूर जाएंगे. हमें भगवान पर दृढ़ यक़ीन है. सभी शान्ति बनाए रखें.'‬ हालांकि, उनकी इस अपील के बाद भी पंचकूला में उनके समर्थकों का जाना जारी है. हजारों की भीड़ पहले से जमा है.

कानून का उल्लंघन किया तो कार्रवाई

सीआरपीएफ के डीजी पीआर भटनागर ने कहा कि हमने पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया है. सीआरपीएफ के जवान राज्य पुलिस के अधीन रहकर कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में मदद करेंगे. कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाएगी. जिलाधिकारी पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

हजारों की संख्या में जुटने लगे समर्थक

जानकारी के मुताबिक, चंडीगढ़ और पंचकूला में हजारों की संख्या में डेरा समर्थक पहुंच रहे हैं. इन्होंने पार्कों में डेरा लगा लिया है. डेरा प्रमुख के पेशी वाले दिन लाखों समर्थकों के पहुंचने की संभावना जताई जा रही है. डेरा समर्थक महिलाओं बच्चों को भारी तादाद में पहुंचने की हिदायत दे रहे हैं. यदि फैसला उनके खिलाफ रहा तो वे कुछ भी कर गुजरने की योजना में हैं.

जमा किए पेट्रोल-डीजल और हथियार

आईबी रिपोर्ट के मुताबिक, फरीदकोट में डेरा समर्थकों ने घर की छतों पर भारी मात्रा में पेट्रोल, डीजल और काफी नुकीले हथियार जमा कर लिए हैं. यदि फैसला डेरा प्रमुख के खिलाफ जाता है, तो वे भारी उपद्रव कर सकते हैं. ये लोग सरकारी संपत्ति और वाहनों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर सकते हैं. इसके मद्देनजर पुलिस अधिकारियों को अलर्ट किया गया है.

स्कूल और कॉलेज बंद, जवान तैनात

पंचकूला और चंडीगढ़ में 25 अगस्त तक स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं. गृह मंत्रालय ने अर्धसैनिक बलों की 167 कपनियां भेजी हैं. इसमें 97 CRPF, 16 RAF, 37 SSB, 12 ITBP, 21 BSF की कंपनियां पंजाब और हरियाणा में तैनात कर दी गई हैं. केंद्र सरकार वहां के हालात पर 24 घंटे वहां नजर बनाए हुए है. हाई अलर्टजारी किया गया है.


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें