Friday, August 4, 2017

सूरतगढ में दुकानदारों की चतुराई से जेसीबी चलने का खतरा पक्का हुआ

करणीदान सिंह राजपूत 

सूरतगढ़। दुकानों के शटर के आगे 3 फुट की छूट मिली मगर दुकानदारों ने उससे आगे 3 फुट की पेड़ी रखकर कुल 6 फुट का अतिक्रमण कायम रख लिया। कमाल है सूरतगढ़ के दुकानदारों का दिमाग​। अब इस कमाल या ज्यादा चतुराई  के कारण जेसीबी चलने का खतरा पक्का हो गया है।

सारे राजस्थान में अतिक्रमण हटाने का अभियान उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार स्वायत्त शासन निकाय ने चला रखा है। यह अभियान सूरतगढ़ में कुछ धीमी गति से चल रहा है। दुकानदारों ने रक्षाबंधन त्यौहार का हवाला दिया और नगर पालिका प्रशासन बिना किसी लिखित समझौते के कुछ शांत हुआ। सूरतगढ़ में दुकानों और व्यावसायिक शोरूम के आगे फुटपाथों पर कब्जा कर उनकी  चौकियां बना ली और अतिक्रमण कर लिया। पैदल चलने वालों का Footpath कब्जे कर लिया गया जिसका उपयोग सामान रखकर दुकानदारी में होने लगा  अतिक्रमण हटाओ अभियान में गुपचुप रूप से यह ढील दी गई की 3 फुट की जगह रख  कर उससे आगे के अतिक्रमण को खुद दुकानदार हटा लें। 3 फुट का यह अतिक्रमण रखने की छूट नहीं मिलनी चाहिए थी, क्योंकि यह पैदल चलने वालों के लिए है।  दुकानदारों ने शटर के आगे 3 फुट की जगह तो अधिकार के रूप में रख ली और उसके आगे का अतिक्रमण हटा कर वहां 3 फुट  की नयी पेड़ियां बनाली। इस तरह से शटर के आगे यह अतिक्रमण 6 फुट का कायम रख लिया गया। नगरपालिका की ओर से किसी को भी लिखित में या विज्ञापन के जरिए  या मुनियादी करके यह छूट नहीं दी गई है। ऐसा लगता है कि दुकानदारों की इस होशियारी से 3 फुट की जगह तो जाएगी ही सारा अतिक्रमण JCB से हटाया जाएगा। यह खतरा खुद दुकानदारों ने अपनी होशियारी से पैदा कर लिया है। एक आश्चर्य और है कि कई दुकानदारों ने बड़ी होशियारी रखी और  ऊपर चढ़ने के लिए फुटपाथों पर पेड़ियां बनाकर सुविधा ली और पेड़ियों के नीचे भटियां बना ली जहां पर नमकीन आदि बनाने का कार्य होने लगा। चर्चा है कि 15 अगस्त के बाद JCB तेज गति से चलेगी।

-----------------


No comments:

Post a Comment

Search This Blog