Tuesday, August 22, 2017

25 अगस्त को क्या होगा अदालती फैसला? पंजाब हरियाणा में व्यापक सुरक्षा प्रबंध

जालंधर: 22-8-2017.

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की विशेष सीबीआइ अदालत में पेशी को लेकर सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह चौकस हो गई हैं। हर तरह के हालात से निपटने के लिए पंजाब के विभिन्न जिलों में पैरामिलिट्री फोर्स पहुंच गई हैं। सोमवार को कई जिलों में पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों ने फ्लैग मार्च निकाल कर सुरक्षा का जायजा लिया। वहीं, एहतियात के तौर पर पंजाब से सटे सभी राज्यों की सीमाएं सील कर दी गई हैं।

मोहाली पुलिस के कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी गई हैं। एसएसपी ऑफिस की तरफ से सभी अन्य अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। अधिकारियों के रीडर अन्य ऑफिसों में बैठे मुलाजिमों की ड्यूटियां भी लगा रहे हैं। मोहाली के एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि मोहाली जिले के चंडीगढ़, पंचकूला व अन्य जिलों से सटे मार्गों को सील किया गया है। हर मार्ग पर एक टुकड़ी तैनात की गई है। इस मार्ग पर वीडियोग्राफी के लिए फोटोग्राफर भी तैनात किए गए हैं। ड्रोन मंगवाए गए हैं और स्पेशल वीडियोग्राफर लगाए गए हैं।

हरियाणा ने 150 कंपनियों की मांग की थी। 35 टुकडिय़ों ने  संवेदनशील जिलों में मोर्चा संभाल लिया है।  आगजनी जैसी घटनाएं रोकने के लिए अग्निशमन यंत्र उपलब्ध करवा दिए गए हैं। इसके अलावा बम निरोधक दस्ते व डॉग स्क्वॉड भी तैनात की गई है। चंडीगढ़ में सभी सरकारी व गैर सरकारी गेस्ट व रेस्ट हाउसेज के प्रबंधकों को आदेश जारी किए हैं कि कोई भी नई बुकिंग बिना पुलिस वेरीफिकेशन न की जाए।


कंट्रोल रूम बनाए


सभी जिलों में पुलिस ने कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। अमृतसर में विशेष चौकसी बरती जा रही है। डीसी कमलदीप ङ्क्षसह संघा और डीसीपी एएस पवार ने गुरु नगरी की जनता से अपील की है कि अगर कोई संदिग्ध दिखे तो इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दे।


राजपत्रित अधिकारियों को मिली कार्यकारी मजिस्ट्रेट की पावर


पंजाब सरकार ने एहतिहात के तौर पर सभी राजपत्रित अधिकारियों को 30 सितंबर तक कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए कार्यकारी मजिस्ट्रेट की शक्ति दी है। राज्य के सभी डिप्टी कमिश्नरों को भेजे गए आदेश के अनुसार पंजाब के मुख्य सचिव करण अवतार सिंह ने बताया कि राज्यपाल पंजाब ने राज्य के सभी राजपत्रित अधिकारियों को कार्यकारी मजिस्ट्रेट की शक्तियां प्रदान की है।

यह व्यवस्था तत्काल प्रभाव से 30 सितंबर तक के लिए प्रभावी होगी। कानून-व्यवस्था की स्थिति को देखते हुए भारतीय रेलवे के अधिकारियों ने डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालुओं द्वारा रेल रोकने व रेल को नुकसान पहुंचाने की संभावना से अवगत करवाया है। ऐसी स्थिति से निपटने को स्थानीय पुलिस, जीआरपी, आइबी और राज्य की गुप्तचर एजेंसियों से संपर्क बना एहतियाती उपाय करने की सलाह दी गई है।


हरियाणा में खाली कराई जा रहीं बैरकें


हरियाणा पुलिस का कहना है कि हंगामा करने वाले डेरा समर्थकों को तुरंत गिरफ्तार कर जेलों में डाला जाएगा। आपात स्थिति से निपटने के लिए जेल प्रशासन ने पहले से बंद डेरा अनुयायियों को अलग बैरकों में शिफ्ट कर कुछ बैरकों को खाली कराना शुरू कर दिया है। अगले आदेश तक जेल स्टाफ की छुट्टियां बंद कर दी गई हैं। जेल महानिदेशक डॉ. केपी सिंह ने सभी जेल अधीक्षकों को पत्र जारी कर साफ कर दिया है कि 25 अगस्त को पुलिस की ओर से कोई भी कार्रवाई की जा सकती है।


No comments:

Post a Comment

Search This Blog