Wednesday, July 5, 2017

सूरतगढ़ में सड़कों और फुटपाथों के अतिक्रमण हटाने वास्ते मांग और धरना दिया गया

सूरतगढ़ 8 जुलाई 2017. सड़कों और फुटपाथों पर से अतिक्रमण हटाने की मांग को लेकर आज उपखंड कार्यालय पर धरना दिया गया तथा मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन दिया गया।

अतिक्रमण हटाओ संघर्ष समिति की ओर से धरना देने वालों में दिलात्म प्रकाश जैन,राजेंद्र मुद्गल,बलराम कुक्कड़वाल, एडवोकेट प्रमोद सहाय, अमरचंद नायक, गुरजशिंदर सिंह, नरेंद्र शर्मा,जगदीश नायक,गोपालदास, आसाराम गहलोत, राकेश मेघवाल, हरबंश ढुढेरिया,,गुरदीप रामगढ़िया, पंकज व कुलदीप आदि धरने पर बैठे। विदित रहे कि राजस्थान उच्च न्यायालय के निर्देश पर सारे राजस्थान में और श्री गंगानगर जिले में अतिक्रमण हटाने की हलचल हो रही है लेकिन सूरतगढ़ में नगरपालिका की ओर से किसी कार्यवाही के होने की भनक तक नहीं है। नगर पालिका ने कुछ दिन पूर्व फुटपाथों पर से सामान जरूर हटवाया था लेकिन फुटपाथों के स्थाई अतिक्रमण नहीं हटवाए। कब्जे पूर्व की भांति कायम है। यहां तक की बीकानेर रोड पर सड़क के अतिक्रमण हटाने की मांग अनेक बार उठ चुकी है। 50-70 दुकानदारों ने ये कब्जे कर रखे हैं। नगरपालिका को बार-बार लिखकर के देने के बावजूद सड़क पर का कब्जा नहीं हटाया गया। इसके अलावा शहर में विभिन्न वार्डों में तथा हाउसिंग बोर्ड में  कब्जों की भरमार है। अतिक्रमण से आवागमन तो प्रभावित होता ही है नाले और नालियों की सफाई भी सही ढंग से नहीं हो पाती। नगर पालिका प्रशासन अधिशासी अधिकारी इंजीनियर सफाई निरीक्षक आदि की ओर से शहर में भ्रमण करके और अतिक्रमण बाबत कोई कार्यवाही नहीं हुई है। शहर में कहां-कहां अतिक्रमण से फुटपाथ और सड़कें बाधित हैं इनका कोई ब्यौरा पार्षदों आदि को उपलब्ध नहीं करवाया गया है। नगरपालिका की ओर से अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही कब शुरू होगी इसका भी कोई अता-पता नहीं है।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog