Monday, July 10, 2017

पंजाब के वाहनों को हरियाणा में घुसने नहीं दिया गया सतलुज यमुना लिंक नहर का मामला


हरियाणा में अधिक पानी लाने के लिए इनेलो कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन शुरू हो गया है। इनेलो पंजाब में सतलज-यमुना लिंक (नहर) के तत्काल निर्माण की मांग कर रहा है। इस मांग को लेकर इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) के कार्यकर्ताओं ने हरियाणा में अंबाला के नजदीक राष्ट्रीय राजमार्ग तथा चार अन्य सड़कों को जाम कर दिया। इनेलो के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अपने एकदिवसीय ‘रोड रोको आंदोलन’ के तहत यहां से करीब 45 किलोमीटर दूर अंबाला के नजदीक एनएच-1 को जाम कर दिया।

प्रदर्शनकारियों ने शंभू नाके पर अमृतसर और दिल्ली को जोड़ने वाले व्यस्त राजमार्ग को भी जाम कर दिया और पंजाब से वाहनों को हरियाणा में दाखिल नहीं होने दिया।

हरियाणा के सिरसा जिले में डबवाली कस्बे के पास भी वाहनों का आवागमन रोक दिया गया। इनेलो हरियाणा को ज्यादा जलापूर्ति के लिए पंजाब में सतलज-यमुना लिंक नहर के तत्काल निर्माण की मांग कर रहा है।


इनेलो के प्रदर्शन को देखते हुए केंद्रीय सुरक्षा बल और हरियाणा पुलिस के सैकड़ों सुरक्षा कमियों को राज्य की सीमा से सटे पांच प्रमुख स्थानों पर तैनात किया गया है।हरियाणा के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सोमवार सुबह से ही उन स्थानों पर तैनात हैं, जहां प्रदर्शन हो रहे हैं। हरियाणा पुलसि के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजीपी) आर. सी मिश्रा ने शंभू नाके पर कहा, “हम किसी भी स्थिति के लिए तैयार हैं। हम परिस्थिति के आधार पर कार्रवाई करेंगे।”


वाहनों को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-1 पर लालरु-चंडीगढ़ खंड, एनएच-1 पर अंबाला शम्भू सीमा, नरवाना-धानौरी सीमा, फतेहाबाद जिले में रतिया-बुढाल्दा रोड (जाखल मोड़) और सिरसा जिले के दाबवली में रोका जा रहा है। इनेलो के नेताओं का कहना है कि आपातकालीन वाहनों, जैसे एंबुलेंस आदि की आवाजाही को विरोध-प्रदर्शन से अलग रखा गया है।


इनेलो महासचिव अभय सिंह चौटाला हेलीकॉप्टर से सभी पांच जगहों पर जाएंगे, जहां प्रदर्शन हो रहे हैं।उधर, पंजाब में प्रशासन ने सार्वजनिक सेवा की बसों को एहतियातन सोमवार को हरियाणा नहीं भेजने का फैसला किया है।इससे पहले चौटाला ने कहा था, “पंजाब के लोगों के प्रति सद्भावना दर्शाने के लिए हमारे कार्यकर्ताओं ने फूलों की व्यवस्था की है, जो पंजाब से आने वाले यात्रियों को दिया जाएगा।”


उन्होंने कहा, “इनेलो के कार्यकर्ता आने वाले लोगों से पंजाब सरकार पर यह दबाव बनाने की अपील भी करेंगे कि एसवाइएल नहर का निर्माण जल्द पूरा करवाया जाए।”

इनेलो कार्यकर्ता सुबह ही हरियाणा-पंजाब बार्डर पर पहुंच गए थे, लेकिन कड़े सुरक्षा प्रबंधों के कारण वह अपनी योजना में सफल नहीं हो पाए। पंजाब में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे इनेलो कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बैरियर के पास ही रोक दिया। इसके बाद इनेलो कार्यकर्ता शंभू बार्डर पर सड़क के बीचोंबीच बैठ गए।


हरियाणा ने सुरक्षा व्यवस्था के लिहाज से 10 कंपनियां अद्र्धसैनिक बलों की कंपनियों को तैनात किया गया है। पंजाब ने भी 30 कंपनियां तैनात की हैं। कोई गड़बड़ी न हो इसके मद्देनजर दोनों राज्यों की बसों को एक-दूसरे की सीमा में प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। इससे यात्री परेशान हैं।

एडीजीपी हरियाणा आरसी मिश्रा बार्डर पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेते हुए।


पंजाब के शंभू बॉर्डर पर पटियाला के डीसी अमित कुमार एसपीएम भूपति भी पहुंचे। इसके अलावा एडीजीपी हरियाणा के एडीजीपी आरसी मिश्रा ने हरियाणा पंजाब बॉर्डर पर सुरक्षा प्रबंध जांचे। उधर, हरियाणा-पंजाब सीमा पर सद्दोपुर में आठ सीसीवीटी कैमरे लगाकर प्रशासन इनेलो कार्यकर्ताओं पर नज़र रख रहा है। अभी तक माहौल शांतिपूर्ण बना हुआ है।


शंभू बार्डर पर अभय चौटाला व सांसद दुष्यंत चौटाला ने इनेलो कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि वह एसवाइएल निर्माण के लिए सरकार से भिड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। इनेलो ने दातासिंहवाला बार्डर पर भी धरना दिया। हरियाणा व पंजाब दोनों राज्यों के वाहनों को एक दूसरे की सीमा में नहीं घुसने दिया गया।


डबवाली में इनेलो कार्यकर्ताओं ने बीच सड़क पर बैठकर जाम लगाया। इस दौरान मौके पर सांसद चरणजीत रोड़ी, एमएलए मक्खन सिंगला, एमएलए बलकौर सिंह भी मौजूद रहे। वहीं, पानीपत में भारी वाहनों को थर्मल चौंकी पुलिस द्वारा नाका लगाकर जींद की ओर जाने से थर्मल में ही रोका जा रहा है। जींद में इनेलो के एसवाइएल मुद्दे को लेकर चल रहे आंदोलन के कारण भारी वाहनों को आगे नहीं जाने दिया जा रहा। इनको यहीं से ही वापस भेजा जा रहा है।


कैथल में इनेलो के रास्ता रोको अभियान के चलते पंजाब हरियाणा सीमा पर भारी संख्या में पंजाब-हरियाणा दोनों राज्यों की पुलिस भारी संख्या में तैनात है। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए प्रशासन द्वारा सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। कैथल प्रशासन द्वारा तहसीलदार गुहला को किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है।

तहसीलदार गुहला ने बताया कि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिए सुरक्षा के इंतजामात किए गए हैं और किसी भी प्रकार की किसी भी यात्री को परेशानी नहीं आने दी जाएगी। किसी भी इनेलो कार्यकर्ताओं द्वारा रास्ता रोकने की कोशिश की जाती है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी और और उन्होंने बताया कि यात्रियों को परेशानी न हो, इसके लिए तीन अलग से रास्ते बनाए गए हैं ताकि ट्रैफिक सुचारु रुप से चालू रह सके।

दूसरी ओर पंजाब की सीमा में पंजाब पुलिस द्वारा नाकाबंदी की गई है। पंजाब पुलिस के इंस्पेक्टर हरमनप्रीत सिंह ने बताया कि पंजाब और हरियाणा पुलिस का तालमेल लगातार बना हुआ है किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए उच्च अधिकारियों द्वारा जो निर्देश दिए गए हैं, उसकी सख्त से पालना की जाएगी दूसरी और यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।


यात्रियों ने बताया कि वह सुबह से पंजाब जाने के लिए खड़े हैं, परंतु उनके लिए कोई बस नहीं है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टी है तो वह अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रही है परंतु जनता को तंग कर रही है। पंजाब की बसे पजाब सीमा तक ही यात्रियों को उतार कर जा रही है। हरियाणा में पंजाब की बस प्रवेश नहीं कर रही है और यात्रियों को पंजाब की सीमा से चीका तक पैदल आना पड़ रहा है।


विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला ने प्रतिपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला ने मुख्यमंत्री को उनके एसवाइएल पर दिए बयान पर घेरा। कहा कि मुख्यमंत्री से तत्काल अपने पद से हट जाने की मांग की। उन्होंने कहा कि कोर्ट के फैसले का मुख्यमंत्री झूठा हवाला दे रहे है। अपने पद की गरिमा का ख्याल रखते हुए उन्हें अपनी कुर्सी छोड़ देनी चाहिए। कुर्सी पर बैठे रहने के लिए सत्ताधारी के लोग गलत बयान देते हैं।


इन पांच जगहों पर वाहन रोक रहे इनेलो कार्यकर्ता


- डबवाली में पंजाब के मलौट, फिरोजपुर व बठिंडा की तरफ से आने वाले वाहन


- टोहाना में पटियाला के रास्ते आने वाले वाहन


- खनौरी से आने वाले वाहन


- अंबाला शहर स्थित बलदेव नगर


‌- अंबाला के पास ही हरियाणा-पंजाब शंभू बैरियर

No comments:

Post a Comment

Search This Blog