Saturday, June 17, 2017

सूरतगढ़ के राजकीय चिकित्सालय के मुर्दाघर की हालत बूचड़खाने से बदतर

 -बदबू  30-40 फुट दूर तक पहुंचती है जिससे सांस लेना मुश्किल हो जाता है।


सूरतगढ़ 17-6-2017.
आज प्रातः 9:00 बजे बसपा के नगर अध्यक्ष पवन सोनी के नेतृत्व में राजकीय चिकित्सालय प्रभारी डॉक्टर दर्शन सिंह को मुर्दा घर की साफ सफाई के संबंध में ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन में बताया गया कि राजकीय चिकित्सालय में साफ सफाई के नाम पर केवल खानापूर्ति की जा रही है। मुर्दा घर के हालात बद से बदतर हो गये है। मुर्दा घर की बदबू 30 - 40 फुट दूर तक चारदीवारी से बाहर  पहुंचती है जिससे सांस लेना भी कठिन हो जाता है । मुर्दाघर में जगह जगह खून बिखरा रहता है और शवों  के कपड़े इधर उधर खुले में बिखरे रहते हैं। ऐसा प्रतीत होता है कि यह मुर्दाघर नहीं होकर कोई बूचड़खाना हो। साफ-सफाई बाबत जब सफाई ठेकेदार से पूछा जाता है तो वह झगड़े पर उतारु हो जाता है ।

ज्ञापन में मांग की गई है कि मुर्दा घर की साफ सफाई नियमित रूप से करवाई जाए। फर्श व  स्ट्रेचर  को रोज पानी से धोया जावे।

 यदि शीघ्र ही  समस्या का हल नहीं हुआ तो चिकित्सालय प्रशासन के खिलाफ आंदोलन करेंगे जिस की समस्त  जिम्मेदारी चिकित्सालय प्रशासन की होगी।  मौके पर साफ सफाई ठेकेदार को भी बुलाया गया और उसे नियमित साफ सफाई करने व सुबह शाम मुर्दाघर  के फर्श को धोने के लिए हिदायत चिकित्सालय  प्रभारी डॉ दर्शन सिंह ने दी ।
 सफाई ठेकेदार ने अपनी गलती मानते हुए कहा कि आगे से साफ सफाई नियमित रूप से करवाई जाएगी।

 ज्ञापन देने में बसपा नगर अध्यक्ष पवन सोनी, महावीर टाक, राधे श्याम उपाध्याय, कुलदीप कुमावत ,भादरराम सेन ,दीपक टाक आदि  चिकित्सालय पहुंचे ।






No comments:

Post a Comment

Search This Blog