Wednesday, June 14, 2017

राजस्थान में वसुंधरा राजे का विरोध नहीं करेगी आम आदमी पार्टी: क्यों

आम आदमी पार्टी  के केंद्रीय नेतृत्व में मचा घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। 

आप के प्रवक्ता दिलीप पांडेय ने पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास पर सवाल उठाए हैं। दिलीप पांडे ने ट्वीट के जरिए विश्वास से सवाल पूछते हुए कहा- “भैया, आप कांग्रेसियों को ख़ूब गाली देते हो, पर कहते हो कि राजस्थान में वसुंधरा के ख़िलाफ़ नहीं बोलेंगे? ऐसा क्यों? दरअसल पिछले दिनों राजस्थान में विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर कुमार विश्वास ने स्थानीय नेताओं के साथ बैठक की थी। बैठक में कुमार विश्वास की ओर से नेताओं को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत किसी नेता पर निजी टिप्पणियां नहीं करने के निर्देश दिए थे। विश्वास ने पदाधिकारियों को निजी टिप्पणी करने के बजाए मुद्दों पर आधारित प्रचार करने की सलाह दी थी। बीजेपी के प्रति कुमार विश्वास के इस रुख को लेकर ही आप नेता दिलीप पांडेय ने सवाल उठाए हैं।

एक टीवी चैनल से बातचीत में दिलीप पांडेय ने कहा कि कुमार विश्वास पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं। उनके साथ किसी भी तरह का कोई मतभेद नहीं है। लेकिन उनके द्वारा बीजेपी नेताओं पर नरम रुख एख्तियार करने की सलाह कार्यकर्ताओं में संशय पैदा करती है।
आम आदमी पार्टी हमेशा से कांग्रेस और बीजेपी के बीच के गठजोड़ के खिलाफ आवाज उठाती रही है। ऐसे में विश्वास की ओर से यह संदेश देना कि बीजेपी नेताओं के खिलाफ नहीं बोलना है, कार्यकर्ताओं में संशय पैदा करता है।

भैया, आप कांग्रेसियों को ख़ूब गाली देते हो, पर कहते हो कि राजस्थान में वसुंधरा के ख़िलाफ़ नहीं बोलेंगे? ऐसा क्यों?
पंजाब और गोवा में विधानसभा चुनावों और दिल्ली में निकाय चुनाव के बाद आम आदमी पार्टी के अंदर भीषण अंर्तकलह देखने को मिली थी। आप विधायक अमानतुल्लाह खान ने कुमार विश्वास पर गंभीर आरोप लगाए थे। पार्टी के अंदर मची घमासान के बीच खबर आई कि कुछ विधायकों ने अरविंद केजरीवाल को संयोजक पद से हटाने के लिए कुमार विश्वास से संपर्क किया। हालांकि केजरीवाल और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कुमार विश्वास से उनके घर पर मुलाकात करके मामले को शांत करने की कोशिश की। केजरीवाल ने कुमार विश्ववास को छोटा भाई बताते हुए ट्वीट किया। इस ट्वीट पर विश्वास की ओर से रि-ट्वीट भी किया गया। अब केजरीवाल से रिश्ते को लेकर विश्वास सुनिश्चित नहीं है। मंगलवार  13 जून को एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में विश्वास ने कहा कि वह केजरीवाल के साथ अपने रिश्तों को लेकर सुनिश्चित नहीं है।
विश्वास ने कहा, “हम सभी पार्टी के लिए काम करते हैं… हम रिश्तेदार नहीं है… हम सभी एक सामान्य कारण के लिए एक साथ काम करते हैं।”
(जनसत्ता)



No comments:

Post a Comment

Search This Blog