बुधवार, 14 जून 2017

एएसआई ने पुलिस थाने में रिश्वत ली एसीबी ने गिरफ्तार किया

अलवर. 14-6-2017.
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने रिश्वत लेते रैणी थाने के एएसआई हाकमदीन को गिरफ्तार किया है। एएसआई ने जमीन के एक मामले में एफआर लगाने के बदले 20 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। इसमें से 10 हजार रुपए उसने पहले ही ले लिए। मंगलवार 13 जून को शेष 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया।
 एसीबी के पुलिस उपाधीक्षक सलेह मोहम्मद ने बताया कि रैणी के बहादुरपुर निवासी रामगोपाल मीणा ने एसीबी को प्रार्थना पत्र दिया कि उसने व उसके भाइयों छोटेलाल व पुन्याराम ने गांव में अपनी एक बीघा जमीन का अप्रैल  2017 में गांव के जितेन्द्र मीणा से सौदा किया। जिसके बेचान की रजिस्ट्री 5 मई 2017 को होनी थी, लेकिन जितेन्द्र से पूरे पैसे नहीं मिलने पर उन्होंने रजिस्ट्री नहीं कराई।


 इसके बाद उन्होंने जमीन का सौदा निरस्त कर दूसरे व्यक्ति को उसका बेचान कर दिया। इस पर जितेन्द्र ने इकरारनामे के आधार पर उनके खिलाफ रैणी थाने में मुकदमा दर्ज कराया। जिसकी जांच थाने के एएसआई हाकमदीन कर रहे थे।


रामगोपाल ने एसीबी को बताया कि तीन-चार दिन पहले एएसआई ने उन्हें फोन कर धमकाया और कहा कि 20 हजार रुपए दे दो। मामले में एफआर लगा दूंगा। इस पर परिवादी ने सोमवार को एएसआई को 10 हजार रुपए दे दिए,शेष 10 हजार रुपए परिवादी को मंगलवार शाम 6 बजे तक देने थे। पुलिस उपाधीक्षक के अनुसार इस पर एसीबी ने शिकायत का सत्यापन कराया। इसके बाद मंगलवार को परिवादी को रिश्वत की राशि लेकर थाने भेजा गया। शाम 6 बजे थाने में जैसे ही परिवादी ने एएसआई रामगढ़ के पुठी निवासी हाकमदीन पुत्र हिम्मत खां को रिश्वत की राशि दी। एसीबी की टीम ने एएसआई को रंगे हाथों दबोच लिया।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें