Saturday, May 27, 2017

दिल्ली मैं सतर्कता लश्कर ए तैईबा के आतंकवादी घुसने की आशंका

नई​ दिल्ली 27-5-2017.
दिल्ली पुलिस को इस खुफिया जानकारी के बाद अत्यंत सतर्क कर दिया गया है कि लश्कर ए तैयबा के 20-21 आतंकवादियों का समूह हमले करने के लिए देश में घुस आया है।
दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने एक परामर्श जारी करके अपने जिलों, मेट्रो पुलिस एवं रेलवे पुलिस इकाइयों को सतर्क करते हुए उनसे बाजार वाले इलाकों, धार्मिक स्थानों, मॉल, मेट्रो एवं रेलवे स्टेशनों में सुरक्षा कड़ी करने को कहा है। परामर्श में विभिन्न पुलिस इकाइयों से अत्यंत सतर्कता बरतने और ‘‘संदिग्ध लोगों, वस्तुओं एवं वाहनों पर तीखी नजर रखने’’ और वाहनों एवं व्यक्तियों की अच्छी तरह जांच करने को कहा गया है। यह परामर्श ऐसे में जारी किया गया है जब हाल में ब्रिटेन के मैनचेस्टर और दुनिया के कई अन्य स्थानों में हाल में आतंकी हमले हुए हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि ऐसा संदेह है कि लश्कर के सदस्य दिल्ली, मुंबई, राजस्थान या पंजाब में हो सकते हैं।

अधिकारियों से अपने स्टाफ की तैयारी की जांच करने के लिए मॉक ड्रिल करने को कहा गया है। दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने ‘पीटीआई’ को हाल में दिए एक साक्षात्कार में कहा था कि उन्हें सतर्कता बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयास करने की आवश्यकता है क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी आतंकवादी संगठनों का पसंदीदा निशाना है। संवेदनशील स्थानों पर पीसीआर की 10 वैन तैनात की गई हैं जिनमें राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड-प्रशिक्षित चालक एवं कमांडो हैं। विजय चौक, पालिका बाजार, आईपी मार्ग, साकेत में सेलेक्ट सिटीवॉक मॉल, वसंत कुंज मॉल, सुभाष नगर में पैसिफिक मॉल, नेताजी सुभाष पैलेस बाजार एवं मॉल परिसर, अक्षरधाम मंदिर, लोटस टेम्पल और झंडेवालान में ‘पराक्रम’ वैन तैनात की जाएंगी।

बता दें कि इसी साल के शुरुआत में भी उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले से लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े एक संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया गया था। पुलिस के एक प्रवक्ता के मुताबिक खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस और सेना की संयुक्त टीम ने जिले के हंडवारा इलाके से आशिक अहमद उर्फ अबु हैदर को गिरफ्तार किया था। से पुलिस और 21RR ने ज्वाइंट ऑपरेशन के दौरान पकड़ा था। उन्होंने बताया कि उसके पास से एक एके 47 राइफल, तीन मैगजीन, एक चीनी पिस्तौल और मैगजीन, तीन हथगोले, एक मैगजीन पाउच और एक मानचित्र जब्त किया गया था। प्रवक्ता ने बताया कि पूछताछ में अहमद ने बताया कि वह अबु बकर का करीबी सहयोगी था जोकि लश्कर का कमांडर था जिसे पिछले महीने सोपोर में एक मुठभेड़ में मार गिराया गया था।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog