Monday, May 29, 2017

भारत-पाक जल समझौते को फिर से देखा जा रहा है- इस्पात मंत्री



भारत-पाकिस्तान जल समझौते  को फिर से देखा जा रहा है

हरियाणा, पंजाब व राजस्थान को मिलेगा फायदाः- केन्द्रीय मंत्री

केन्द्रीय मंत्री चौधरी बीरेन्द्र सिंह ने कहा कि भारत व पाकिस्तान में जल बंटवारे को लेकर 1960 में जो तय किया गया था। उस समझौते का अध्ययन किया जा रहा है तथा समझौते के पहलुओं को समझा जा रहा है। उन्होंने कहा कि समझौते के अनुसार सतलुज, व्यास तथा रावी का पानी भारत के हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान तथा दिल्ली को पीने के लिये देने संबंधी तथा झेलम तथा चिनाब नदियों का पानी पाकिस्तान को देने की बात हुई थी। भारत सरकार इस समझौते के अनुरूप भारत के हिस्से का पानी किसी भी सूरत में पाकिस्तान न जाये, इस पर अध्ययन किया जा रहा है।

                   केन्द्रीय मंत्री ने यह बात ग्रीनवैली में आयोजित एक कार्यक्रम एवं प्रेस वार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि भारत को मिलने वाले पानी का पूरा सदूपयोग करने से पंजाब हरियाणा के साथ-साथ राजस्थान के किसानों का भी भला होगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों की आय दौगुणी करने के लिये विभिन्न स्तरों पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि अगर चूरू के किसानों की आय दौगुनी होती है, तो निश्चित तौर पर गंगानगर के किसानों की आय चार गुना होगी।

                 उन्होंने कहा कि देश का विकास उसके नेतृत्व पर निर्भर करता है कि वे देश को किस दिशा में ले जाना चाहते है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर पूरे देश को भरोसा है। सरकार बनने से पहले भी देश की जनता ने अपना पूरा समर्थन देकर जो विश्वास व्यक्त किया था, उस पर सरकार खरी उतरी है। देश की जनता को एक आशा की किरण के रूप में माननीय नरेन्द्र मोदी दिखाई दिये, जिन्होंने आज यह जता दिया है कि भारत किसी भी मुल्क से कम नही है तथा सबसे तेज गति से तरक्की करने वाला देश भारत ही है। देश की गरीब जनता ने भी सरकार पर भरोसा किया है। जिसका परिणाम पिछले कई चुनावों में देखने को मिला है। उन्होंने उतरप्रदेश, चंडीगढ़, उड़ीसा इत्यादि का उदाहरण दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से देश के 6 करोड़ युवाओं ने लाभ लिया।

                  अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष श्री जसबीर सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार की गत तीन वर्ष की उपलब्ध्यिं देश को आगे बढ़ाने वाली है। सरकार की नितियों से देश की दिशा व दशा बदली है तथा आने वाले वक्त में देश की तस्वीर बदलेगी। उन्होंने कहा कि आगे बढ़ते एवं बदलते भारत के निर्माण के यज्ञ में प्रत्येक नागरिक की आहूति जरूरी है। देश में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने 125 करोड़ लोगो के जीवन को बदलने पर काम कर रही है। प्रधानमंत्री जी की नितियां से आमजन में विश्वास बढ़ा है। हमारी जिम्मेदारी है कि केन्द्र व राज्य सरकार की नितियों को जन-जन तक पहुंचाया जाये।

                   सासंद एवं पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री निहालचंद ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए। गांव व गरीब के विकास के लिये सरकार ने पहली बार पंचायतों को सीधे ही राशि भिजवाने का निर्णय किया तथा ग्राम पंचायतों को सीधे दिल्ली से जोड़ा। विश्वगुरू कहलाने वाला भारत का दुनिया तमाशा देश रही थी, लेकिन गत तीन वर्षों में भारत की विश्व में साख बढ़ी है तथा भारत फिर से दुनिया का विश्वगुरू बनेगा।

                    इस अवसर पर श्री हरिसिंह कामरा, अनूपगढ़ विधायक श्रीमती शिमला देवी बावरी, सूरतगढ विधायक श्री राजेन्द्र सिंह भादू, जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका श्योरान, सादुलशहर विधायक एवं पूर्व राज्यमंत्री श्री गुरजंट सिंह बराड़ ने भी सरकार की उपलब्धियों तथा जनकल्याणकारी योजनाओं पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी। कार्यक्रम का सफल संचालन श्री उम्मेद सिंह राठौड़ ने किया।
  आयोजित कार्यक्रम में पूर्व मुख्य सचेतक डॉ. ओपी महेन्द्रा, पूर्व विधायक श्री लालचंद, पूर्व जिला प्रमुख श्री सीताराम मोर्य, न्यास सचिव श्री संजय महिपाल, श्री हरभगवान सिंह बराड, श्री बलवीर सिंह , श्री रमेश राजपाल, श्री गुरवीर सिंह बराड़, श्री सुशील श्योराण, श्री सुरेन्द्र भांभू, श्री प्रदीप धेरड़, श्री रमजान अली चौपदार, डॉ. बृजमोहन सहारण, श्री ओमी नायक, श्री बलवीर सिंह बूरा, श्री बाबू खां रिजवी, श्री प्रहलाद राय टॉक, श्री राजकुमार सोनी, श्री हंसराज पूनिया सहित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक तथा महिलाएं उपस्थित थी। आयोजित कार्यक्रम में समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को सम्मानित किया गया।


No comments:

Post a Comment

Search This Blog