Thursday, June 8, 2017

बृहस्पति ग्रहके 9 जून से वक्रीय चाल छोड़अपने मार्ग पर चलने से लाभ किनको होगा

उज्जैन.30-5-2017.

अपडेट 8-6-2017.


ज्येष्ठ पूर्णिमा 9 जून को शाम 7.27 बजे बृहस्पति मार्गीय होंगे। पिछले कुछ समय से गुरु वक्रीय चल रहे हैं। पंचागीय गणना में पूर्णिमा तिथि पर गुरु का मार्गीय होना शुभ संकेत है। देवगुरु के मार्गीय होते ही विभिन्न् राशि के जातकों को राहत मिलेगी। अधिकाश राशियों के लिए आने वाला समय भाग्योदय कारक रहेगा। मंडी कारोबारियों के लिए उन्नति का समय रहेगा। कृषि जिन्सों में लाभ की स्थिति बनेगी।

ज्योतिषाचार्य पं.अमर डब्बावाला के अनुसार नवग्रहों में देवगुरु का पद लिए हुए बृहस्पति के मार्गीय होने से ग्रह गोचर में अनुकूलता आएगी। वर्तमान में बृहस्पति कन्या राशि में भ्रमणरत होकर वक्रीय चल रहे हैं। साथ ही शनि का वक्रत्व काल भी दशम चतुष्पद दृष्टि संबंध बना रहा है।

वैसे भी शुभग्रहों का वक्रत्व काल अच्छा नहीं माना जाता है। क्योंकि वक्री शुभ ग्रह यदि अन्य पाप ग्रह से दृष्टि संबंध बनाते हैं तो प्राकृतिक परिवर्तन के साथ घटनाओं में भी इजाफा होता है। बाजार के अलग-अलग क्षेत्रों में कपड़ा, तेल, कोयला, रसायन, धातु, शासकीय कार्य आदि प्रभावित होते हैं। इससे बाजार में उतार चढ़ाव की स्थिति बनती है। वर्तमान में वैश्विक परिदृश्य को देखें तो यह स्थिति नजर आती है। 9 जून को बृहस्पति के मार्गीय होते ही इसमें बदलाव दिखाई देगा।

मंडी और बैकिंग बाजार में राहत

बृहस्पति को खाद्य पदार्थों का कारक ग्रह माना जाता है। मार्गीय होते ही कृषि कारोबार में लाभ की स्थिति बनेगी। स्वर्ण, खड़ी फसल के सौदे, बैंकिंग सेक्टर में ब्याज दर की कमी आदि के साथ राहत नजर आएगी।

जातकों की बिगड़ी बनाएंगे देवगुरु, राशियों पर ऐसा रहेगा प्रभाव

-मेष : अवरोध हटेंगे, रुका हुआ धन प्राप्त होगा।

-वृषभ : कार्यक्षेत्र में प्रगति, नियोजित रणनीति का लाभ मिलेगा।

-मिथुन : नया कारोबार शुरु होगा, कार्य के लिए बाहरी स्थान का चयन करेंगे।

-कर्क : धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी, भाग्योदय होगा।

-सिंह : बाहरी यात्रा के साथ व्यवसाय की शुरुआत होगी।

-कन्या : मानसिक शांति मिलेगी, स्वास्थ्य में सुधार होगा।

-तुला : ध्ान का अपव्यय, उधारी उलझा सकती है।

-वृश्चिक : भूमि, भवन, वाहन आदि खरीदने के योग बनेंगे।

-धनु : उलझनें समाप्त होंगी, बड़ी चिंता से मुक्ति मिलेगी।

-मकर : भाग्य का सहयोग मिलेगा, बड़ी योजना सफल होगी।

-कुंभ : व्यवसाय में परिवर्तन से लाभ होगा।

-मीन : मांगलिक कार्य में आ रही बाधाएं दूर होंगी।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog