Friday, April 21, 2017

सूरतगढ राशन घोटाला भी खोलो, गंगानगर में मचा है तूफान



 - करणीदानसिंह राजपूत-


 सूरतगढ़ में कई महीने पहले राशन घोटाले के विरुद्ध संघर्ष चला प्रदर्शन हुए उपखंड अधिकारी के कार्यालय के आगे शहर के विभिन्न संस्थाओं की ओर से धरना हुआ ।आरोप लगाया गया कि थोक और खुदरा दोनों व्यवस्थाओं में थोक और खुदरा एजेंट मालामाल होते रहे लेकिन लोगों को राशन नहीं मिला। इसी पर हंगामा हुआ जो लोग राशन लेने कभी डिपुओं पर गए नहीं उनके बारे में तो कोई जांच ही नहीं हुई। पूरे प्रकरण में प्रशासन की ओर से लीपापोती होती रही और आश्वासन देकर धरने को रुकवा दिया गया लेकिन मालामाल होने वालेे विक्रेताओं में से एक भी व्यक्ति दंडित नहीं हुआ न आवश्यक वस्तु अधिनियम में मुकदमा हुआ। श्रीगंगानगर में राशन घोटाले को लेकर तूफान मचा है और सूरतगढ़ का घोटाला प्रशासन और विक्रेताओं की मिलीभगत से फाइलों में बंद पड़ा है।आज भी सूरतगढ़ का राशन घोटाला खोला जाए तो अनेक लोग दोषी मिलेंगे और  सभी का कच्चा चिट्ठा सामने आ जाएगा। रसद निरीक्षक रसद अधिकारी एक भी नहीं बचेगा। श्री गंगानगर में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अपनी ही सरकार के विरुद्ध और अपने ही राजनेताओं जनप्रतिनिधियों के विरुद्ध आवाज उठाई है। श्री गंगानगर में ऐसे में जागरूक जनता को सूरतगढ़ में आश्वासन पर बंद किए संघर्ष को फिर से शुरू करना चाहिए और शुरू करने से पहले सरकार को और प्रशासन को चेतावनी पत्र दे दिए जाने चाहिए।



No comments:

Post a Comment

Search This Blog