मंगलवार, 11 अप्रैल 2017

भारत सरकार ने 804 पत्र-पत्रिकाओं की विज्ञापन मान्यता रद्द की

- करणीदान सिंह राजपूत -

भारत सरकार ने 804 पत्र-पत्रिकाओं की विज्ञापन मान्यता रद्द कर दी है।अब इनको सरकारी विज्ञापन नहीं मिलेंगे। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के डीएवीपी विभाग ने 6 अप्रैल को यह आदेश जारी किया है। उसमें कारण बताया गया है कि अक्टूबर 2016 के बाद से इन्होंने अपनी प्रतियां डीएवीपी कार्यालयों​ में जमा नहीं करवाई। नियमानुसार प्रतियां जमा कराना अनिवार्य है। सूची में आरएसएस का राष्ट्रधर्म मासिक पत्रिका का नाम भी है जिसे 1947 में शुरू किया गया था और संस्थापक संपादक अटल बिहारी वाजपेई थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें