Wednesday, March 1, 2017

सरकारी योजनाओं के फार्म भरवाना ग्राम सचिव की जिम्मेदारी है



गरीब, मजदूर, विद्यार्थी को लाभ देने का दायित्व ग्राम पंचायत काः- जिला कलक्टर


श्रीगंगानगर, 1 मार्च। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि गरीबों, मजदूरों, महिलाओं व विद्यार्थियों के लिये सरकार द्वारा संचालित योजनाआें का लाभ देने का दायित्व ग्राम पंचायत का है। ग्राम पंचायत के ग्राम सचिव की जिम्मेदारी है कि वह घर-घर जाकर पात्र व्यक्ति को योजना बताये तथा उसकी पात्रता के अनुरूप आवेदन पत्र तैयार करवाकर, उन्हें लाभान्वित करें।  


जिला कलक्टर मंगलवार को रायसिंहनगर पंचायत समिति क्षेत्र की ग्राम पंचायत 16 पीएस में आयोजित रात्रि चौपाल में आवश्यक निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत अपने उतरदायित्वों से दूर नही जा सकती। केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा जो योजनाएं ग्रामीण क्षेत्र के लिये है, उन सभी योजनाओं की क्रियान्वित की जिम्मेदारी ग्राम सचिव की है। उन्होंने कहा कि जिले के समस्त ग्राम सचिव, सभी योजनाओं के आवेदन तैयार करवाये तथा स्वीकृत करवाकर पात्र व्यक्ति को लाभ दिलवाने तक अपनी जिम्मेदारी समझेंगे। 


प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्य शीघ्र प्रारम्भ हो


जिला कलक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्रा आवास योजना गरीब परिवारों के लिये एक ऐसी योजना है, जिसमें बिना किसी भेदभाव के पक्के मकान बनाने का कार्य किया जाता है। जिले की 336 ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री आवास योजना की स्वीकृतियां जारी हो चुकी है। ग्राम पंचायत इनके मस्ट्रोल जारी कर इनके निर्माण कार्य करवाये। प्रधानमंत्री आवास योजना में एक लाख 20 हजार सामग्री मद में, 16 हजार श्रम मद में तथा 12 हजार रूपये की राशि शौचालय निर्माण के लिये दी जाती है। 


जल प्रबंधन के लिये डिग्गियों का निर्माण करें


जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि कृषि को बढ़ावा देने तथा जल बचत के लिये किसान अधिकतम कृषि डिग्गियों का निर्माण करें। सरकार द्वारा डिग्गी निर्माण पर दो लाख रूपये की राशि अनुदान स्वरूप दी जाती है। उन्होंने मृदा स्वास्थ्य कार्ड की चर्चा करते हुए बताया कि कृषि विभाग किसानों को मृदा कार्ड की उपयोगिता बताये। मिट्टी की जांच के बाद ही जरूरत के अनुसार खाद दी जानी चाहिए। गांव 16 पीएस में मृदा जांच के 650 नमूने लिये गये है। रायसिंहनगर क्षेत्रा में अंधड़ से हुए फसल नुकसान की शिकायत पर जिला कलक्टर ने किसानों को आश्वस्त किया कि बीमा कम्पनी से बात की जायेगी तथा किसानों को नियमानुसार बीमा कम्पनी भुगतान करेगी। 

अप्रेल माह में स्वीकृत होगा गौरवपथ


जिला कलक्टर ने कहा कि गांव 16 पीएस में 60 लाख रूपये की राशि से एक अप्रेल  2017 से शुरू होने वाले वितीय वर्ष में गौरव पथ का निर्माण किया जायेगा। गौरव पथ सीसी सड़क होगी तथा दौनो ओर नालियों का निर्माण भी किया जायेगा। 


पेयजल की समस्या का समाधान करने के लिये नई पाईप लाईन डलेगी


रात्रि चौपाल के दौरान ग्रामीणों ने बताया कि गांव में पेयजल की समस्या है तथा अंतिम छोर पर बैठे परिवारों को पीने का पानी भी नही मिल रहा है। जिला कलक्टर ने ग्राम पंचायत व पेयजल विभाग के अधिकारियों से बातचीतकर 10 लाख रूपये की राशि से बड़ी पाईपलाईन डालने के निर्देश दिये। साथ ही एसडीएम को निर्देशित किया कि आगामी दो दिवस में ग्राम पंचायत के सभी चको का दौरा कर एक एक्शन प्लान तैयार करें। गांव में नकारा जीएलआर को हटाने  की मांग पर एसडीएम को निर्देशित किया कि वस्तु स्थिति देख कर रिपोर्ट करेंगे। 


17 पीएस में पक्का खाला निर्माण

रात्रि चौपाल के किसानों ने बताया कि प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना में 24 लाख रूपये की राशि से पक्का खाला स्वीकृत है तथा कुछ किसानों के विरोध के कारण खाले का निर्माण नही किया जा रहा है। जिला कलक्टर ने एसडीएम को जांच करने के लिये निर्देश दिये है। साथ ही किसानों का हित देखते हुए खाला निर्माण प्रारम्भ करने पर बल दिया गया। 


मुमुख्यमंत्रीख्यमंत्री जल स्वावलम्बन के तहत 83 लाख के हांगे कार्य



जिला कलक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के दुसरे चरण में ग्राम पंचायत 16 पीएस में 11 कार्य 83.62 लाख के स्वीकृत किये गये है। इस राशि से सभी कार्य जल प्रबंधन से संबंधित होंगे।


जिला कलक्टर ने रात्रि चौपाल में ग्रामीणों को स्वच्छ भारत मिशन की जानकारी देते हुए बताया कि ग्रामीण अपने स्वास्थ्य लाभ के लिये तथा स्वच्छता के लिये कुईयों का उपयोग बंद करें तथा गांव के मध्य व सड़कों में गोबर के ढेर लकड़ियां इत्यादि डालने से गांव की छवि खराब होती है। ग्रामीण स्वच्छता में सहयोग करें। ग्रामीणों को श्रमिक कार्ड, शुभशक्ति योजना, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, भामाशाह पशु बीमा योजना की जानकारी दी गयी। 


रात्रि चौपाल में एसडीएम श्री कैलाश, सरपंच श्री लखवीर सिंह समरा, उपतहसीलदार श्री भजनलाल मीणा सहित ग्रामीण उपस्थित थे।




No comments:

Post a Comment

Search This Blog