Saturday, March 11, 2017

5 एमएलडी।घड़साना। में रात्रि चौपाल- अपना खेत अपना काम-


 
श्रीगंगानगर, 11 मार्च। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने पंचायत समिति घड़साना की ग्राम पंचायत 5 एमएलडी ‘‘ए’’ के अटल सेवा केन्द्र में शुक्रवार को रात्रि चौपाल आयोजित कर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना तथा ग्रामीणों की समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।
    जिला कलक्टर ने विकास अधिकारी से  जॉब कार्ड की जानकारी प्राप्त की तथा इस संबंध में विकास अधिकारी ने बताया कि गांव में 819 परिवारों के 1160 जॉब कार्ड बनाए गये जिनमें से 80 से अधिक कार्डधारी श्रमिकों को लाभ दिया गया है। नरेगा कार्यो के तहत ‘‘अपना काम अपना खेत’’ कार्यो के संबंध में डिग्गी व शैड निर्माण के संबंध में ग्रामीणों को जानकारी दी कि डिग्गी व शैड के पक्के निर्माण के लिए तीन लाख रूपये तक कार्य करवाया जा सकता है इसके लिए एससीएसटी या बीपीएल के परिवार के पास 2 हैटयर जमीन होनी चाहिए। उन्होने बताया कि इस कार्य के तहत अब तक एक को लाभ दिया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के 16 कार्यो की स्वीकृति जारी की गई है। उन्होने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन योजना के तहत शौचालय निर्माण के लिए राज्य सरकार द्वारा 12-12 हजार रूपये की सहायता दी जाती है।
    जिला कलक्टर ने बताया कि श्रम विभाग द्वारा अब तक 12-13 करोड रूपये की राशि दी गई। जिन श्रमिकों ने 90 दिन का कार्य नरेगा के तहत पूरा कर लिया है उनके श्रमिक कार्ड बनाए जाते है। इस संबंध में जिला कलक्टर ने एसडीएम को 15 दिन में श्रमिको के कार्ड जांच करने के निर्देश दिए। उन्होने बताया कि सामान्य मृत्यु होने पर 2 लाख रूपये तथा दुर्घटना में मृत्यु होने पर 5 लाख रूपये तक की सहायता राशि देने का प्रावधान है। उन्होने सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा चलाई जा रही पालनहार व पेंशन योजना के संबंध में भी ग्रामीणों को जानकारी दी। उन्होनेे चिकित्सा विभाग द्वारा श्रमिको को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से बताया। उन्होने इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग, पशु पालन, कृषि, विद्युत, वन विभाग सहित सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर ग्रामीणेां को इससे अवगत करवाया।
    आयोजित रात्रि चौपाल में एसडीएम श्योराम, कार्यवाहक विकास अधिकारी श्री करणी सिंह, सरपंच वीरपाल कौर, सचिव दलीप सिंह एवं विभिन्न विभागों के अधिकारियों सहित गांव के ग्रामीण उपस्थित थे। 




No comments:

Post a Comment

Search This Blog