Tuesday, February 28, 2017

अनूपगढ़ घड़साना रायसिंहनगर क्षेत्रों में बिजली चोरी छिजत पर ध्यान देने के निर्देश



सरकार की मंशा के अनुरूप ढ़ाणियों को विद्युत मिलेः जिला कलक्टर

श्रीगंगानगर, 28 फरवरी। जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि मुख्यमंत्री विद्युत सुधार कार्यक्रम के तहत जिले में प्रशासनिक अधिकारियों एवं विद्युत विभाग द्वारा चलाये जा रहे अभियान से विद्युत चोरी में काफी कमी आयी है, लेकिन यह कमी तेज गति के साथ आनी चाहिए। 

जिला कलक्टर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभा हॉल में मुख्यमंत्री विद्युत सुधार कार्यक्रम के तहत आयोजित बैठक में बोल रहे थे।उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि दूर-दराज छोटे चकों व ढ़ाणियों में निवास करने वाले परिवारों को विद्युत का लाभ मिले, इसके लिये विधायक एवं सांसद निधि तथा पंडित दीनदयाल उपाध्याय विद्युत कार्यक्रम के तहत जिन ढ़ाणियों के लिये जो राशि स्वीकृत की गयी है। विभाग तत्काल आवश्यक कार्यवाही करते हुए विद्युत से वंचित परिवारों को बिजली उपलब्ध करवाने का कार्य करें।  उन्होंने कहा कि जिन कार्यों की प्रशासनिक स्वीकृतियां जारी हो चुकी है, वे सभी कार्य सात दिवस में प्रारम्भ होने चाहिए। 

121 फीडर में विद्युत छिजत 15 प्रतिशत से नीचे लाने का लक्ष्य

जिला कलक्टर ने कहा कि श्रीगंगानगर जिले में विभाग द्वारा प्रथम चरण में जिन 121 फीडरों का विद्युत सुधार के लिये चयन किया गया है। इन फीडरों पर बिजली छिजत/चोरी में त्वरित कमी आनी चाहिए। विद्युत छिजत को 15 प्रतिशत से भी नीचे तक लाने का हमारा लक्ष्य है। इन फीडरों पर विद्युत सुधार के बाद दूसरे चरण में 152 फीडर लिये जायेंगे। प्रथम चरण के चिन्हित फीडरों पर विद्युत सुधार का कार्य 31 मार्च से पूर्व किया जाना है। 

एक्सईन होंगे नोडल अधिकारी

जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि जिले में ब्लॉक स्तर पर समस्त एसडीएम को एक-एक गांव गोद दिया गया है। इन गांवों में बिजली चोरी रोकने के लिये ग्रामीणों में समझाईश की जायेगी। ब्लॉक स्तर पर विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता नोडल अधिकारी होंगे। एसडीएम, विकास अधिकारी, नोडल अधिकारी संयुक्त रूप से विद्युत छिजत में कमी लाने का प्रयास करेंगे। 

अधिक छिजत अनूपगढ़ व घड़सान क्षेत्र में

विद्युत विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बिजली चोरी, छिजत का अधिकतम प्रतिशत अनूपगढ़ घड़साना क्षेत्र में है। पूरे जिले का विद्युत छिजत 17 प्रतिशत से घटकर 16 प्रतिशत रह गया है। जिला कलक्टर ने अधिक छिजत वाले क्षेत्रों में ज्यादा ध्यान देने की जरूरत बतायी। रायसिंहनगर, अनूपगढ़, घडसाना क्षेत्रों में बिजली चोरी/छिजत पर ज्यादा ध्यान देने के निर्देश दिये गये।

प्रत्येक विधायक को एक-एक गांव गोद दिया जायेगा

जिला कलक्टर श्री ज्ञानाराम ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार जिले के 6 विधायकों को अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में एक-एक गांव गोद दिया जायेगा। इन गांवो में माननीय विधायक गण आमजन को बिजली बचाने के संबंध में समझाईश करेंगे। 

किसानों को आवश्यक लाभ दें

जिला कलक्टर ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि गत दिनों राजस्थान सरकार द्वारा किसानों के विद्युत बिलों की बढ़ी राशि स्वयं वहन करने के निर्णय एवं किसानों के लिये फव्वारा व बूंद-बूंद सिंचाई पद्धति पर विद्युत कनेक्शन को तीन वर्ष बाद सामान्य श्रेणी में शामिल करने के महत्वपूर्ण निर्णय का लाभ किसानों तक पहुंचना चाहिए। 

बैठक में विद्युुत विभाग के अधीक्षण अभियंता श्री आशाराम जांगिड़ सहित जिले के अधिशाषी अभियंताओं ने भाग लिया। 

No comments:

Post a Comment

Search This Blog