Tuesday, February 14, 2017

36 बीबी दूदा मौड नशा मुक्ति शिविर एंव जनजनजागृति कार्यशाला का आयोजन



श्रीगंगानगर, 14 फरवरी। 36 बीबी दूदा मौड नशा मुक्ति शिविर एंव जनजनजागृति कार्यशाला का आयोजन श्रीमान जिला पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कोटोकी के निर्देशानुसार चलाये जा रहे नशा मुक्ति अभियान के अन्तर्गत मंगलवार को राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विधालय दूदामौड 36 बीबी मे निशुल्क नशा मुक्ति शिविर एंवम जनजागृति कार्यशाला का आयोजन किया गया।  कार्यशाला की अध्यक्षता श्री सुनील के पवांर पुलिस उप अधीक्षक श्रीकरणुर के द्वारा की गई , कार्यक्रम मे नशामुक्ति परामर्श एंव उपचार केन्द्र के प्रभारी डा0 रविकान्तगोयल ने मुख्य वक्ता के रूप मे अपने सम्बोधन मे कहा कि नशा सिर्फ बरबादी का रास्ता है नशा मे खुशीयां तलाश ने महज एक पागलपन है समाज मे किसी भी पारिवारिक इकाई मे नशा कोई भी करे मगर उसकी म़त्राणा र्स्वाधीक परिवार की महीलाओं को भूगतनी पडती है। नशा करने से व्यक्ति की आत्मा मर जाती है। डा0 गोयल ने नशे के दोषो व दूष्प्रभावो की जानकारी दी तथा नशे से बचने के सरल उपाय बताते हुऐ छात्रा छात्राओ एंवम उपस्थित जनसमुह को जीवणभर नशा करने व नशा छुडवाने की सामुहिक शपथ दिलवाई कार्यक्रम मे कार्यवाहक थानाधिकारी श्रीहरप्रीत सिह एएसआई ने अपने सम्बोधन मे कहा कि नशा करने वाला व्यक्ति अच्छे बुरे मे भेद न करने की वजह से चोरी डकेती, बलात्कार एंवम हत्या जैसे अपराध कर बेठता है। नशा करने वाला व्यक्ति न केवल अपना बल्कि अपने सकेण्डो लोगो का अपने साथ-साथ प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से पीडा एंवम नुकसान पहुचाता है। द्वड इच्छा शक्ति से नशे को छोडा जा सकता है। कार्यक्रम मे स्थानीय विधालय की प्रधानाचार्य श्रीमती प्रशन्ता शर्मा ने कहा कि पुलिस द्वारा चलाया जा रहा है। नशा मुक्ति अभियान मानवता की सची मिसाल है क्योकि विधार्थीयो काम न कोरे कागज की तरह होता है इस पर जो भी बात अकिंत की जाती है इसका प्रभाव पूरी जिन्दगी रहता है। नशे से विधार्थी एंवम देश की भावी पिढी को बचाना हम सबका दायित्व बनता है तथा इस दिशा मे इस प्रकार के नशामुक्ति अभियान चलाकर पुलिस एंवम स्वास्थय विभाग एक अनूठी मिशाल कायम कर रहे है। कार्यक्रम मे सरपंच श्री अवतार सिह मान ने कहा कि नशे से अपराध का सीधा सम्बध है। इसलिये नशे से बचाना चाहिए एंवम युवा वर्ग से आग्रह किया कि वे समाजिक समस्याओं पर ध्यान केन्द्रीत करें न कि नशे पर , कार्यक्रम के पश्चात डा0 रविकान्त गोयल ने आसपास के क्षेत्रों से आये। नशा पीड़ित लोगो की जांच की एंवम उचित परामर्श प्रदान किया।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog