Wednesday, February 8, 2017

खनन राज्यमंत्री के गृह जिले में जिप्सम माफिया पर मेहरबानीः


-  विशेष रिपोर्ट करणीदान सिंह राजपूत -



राजस्थान के खनन राज्यमंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी के गृह जिले श्री गंगानगर और उसके खास जिप्सम इलाके में जिप्सम माफिया पर खास मेहरबानी होने से करोड़ों रुपए का जिप्सम हर माह भेंट चढ़ जाता है और सरकार को इस मेहरबानी के कारण बहुत बड़ी रकम  की  हानि होती है।आश्चर्य है कि खनन राज्यमंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी झुंझुनू में अचानक निरीक्षण करते हैं लेकिन अपने ही गृह जिले में उनकी नजर धरती पर नहीं पड़ती।
इसका कारण कुछ भी हो लेकिन मंत्री और विभाग दोनों जिप्सम लूटपाट के मामले में जवाब दे हैं। जिप्सम के अवैध दोहन खनन और ढुलाई में कोई पर्दा नहीं है फिर यहां पर औचक निरीक्षण क्यों नहीं होता और विभाग की तरफ से कोई कार्यवाही क्यों नहीं होती?
 जिप्सम के अवैध खनन में जहां माफिया और उसके संगी-साथी करोड़ों रुपए कमा रहे हैं वहां पुलिस राजस्व विभाग और परिवहन विभाग भी हाथ बंधे हुए नहीं हैं। खनन विभाग का तो इस अवैध काम में सहयोग है ही आखिर इस सहयोग के कारण ही जिप्सम का दोहन और ढुलाई दिन  रात चल रहा है। आश्चर्य है कि जहां पर अवैध खनन हो रहा है वहां पर jcb मशीनें तक काम में ली जा रही हैं। बहुत बड़ा अवैध कार्य खुले खाते हो रहा है।
 समाचार पत्रों में लगातार समाचार छप रहे हैं। सरकार को 3 साल पूरे हो गए। मंत्री और विधायक विकास के नारे लगाते हैं।
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का गुणगान करते हुए भाषण देते हैं कि कितना कितना विकास का काम इलाके में और राजस्थान में हुआ है और हो रहा है।
वर्तमान में खनन राज्यमंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी जिनके पास खान विभाग का स्वतंत्र प्रभार है,वे  इलाके में 15 -20 दिन बाद एक बार  जरूर आते हैं। क्या उनको कभी समाचार मिलता नहीं?क्या वे अखबार पढ़ते नहीं ।
अभी प्रमुख समाचार पत्र राजस्थान पत्रिका में 20 जनवरी को जिप्सम पर बहुत बड़ी विशेष रिपोर्ट छपी है। इस रिपोर्ट में इलाके के उन प्रमुख स्थानों का नाम तक उल्लेखित है जहां जिप्सम की अवैध खुदाई चलती है। जब एक संवाददाता को इतनी बड़ी रिपोर्ट मिल सकती है तो मंत्री को रिपोर्ट नहीं मिले यह समझ में नहीं आता। राजस्थान पत्रिका में इस रिपोर्ट को छपे हुए 6 दिन हो गए लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई।।
अभी खनन राज्यमंत्री सुरेन्द्र पाल सिंह टीटी इलाके में है। वे गणतंत्र दिवस पर जिला मुख्यालय श्री गंगानगर में मुख्य समारोह में ध्वजारोहण करेंगे।
आशा की जानी चाहिए की श्री गंगानगर से जयपुर जाने से पहले वे कोई सख्त कदम उठाएंगे और श्री गंगानगर हनुमानगढ़ दोनों जिलों में कार्यवाही करने के लिए आठ 10 दिन इलाके में ही रहेंगे। उनकी सख्त कार्यवाही से जिप्सम माफिया को पकड़ा जा सकेगा और अवैध खनन पर रोक भी लग सकेगी।

25-1-2017.
Up dated 8-2-2017.


No comments:

Post a Comment

Search This Blog