शुक्रवार, 9 दिसंबर 2016

विश्व भ्रष्टाचार निरोधी दिवस 9 दिसंबर पर पर जागो और भ्रष्टाचारियों के विरुद्ध शिकायत लगा दो

:  करणीदान सिंह राजपूत:
आज 9 दिसंबर को विश्व भ्रष्टाचार निरोध दिवस है। इस दिवस पर जागो और दूसरों को भी जगाओ। भ्रष्टाचारियों के विरुद्ध आज ही शिकायत करो और कराओ। देश में एक आवाज उठ रही है आतंकवाद और आतंकवादियों का कोई धर्म कोई समाज और कोई देश भक्ति नहीं होती। उसी तरह भ्रष्टाचारियों का भी कोई धर्म कोई समाज और कोई देश भक्ति नहीं होती। भ्रष्टाचारी अपना घर और अपने परिवार के व्यक्तियों सदस्यों का घर धन से भरने के लिए अन्य लोगों को पीड़ित करता है। अनेक ऐसे मामले हैं जिनमें सीधे रूप से व्यक्ति समाजसेवक और दयावान मददगार जैसा लगता है लेकिन शासन के जो नियम समस्त लोगों के लिए बने हुए हैं उन को तोड़ता है। अगर नियम तोड़ने वाला व्यक्ति समाज सेवा का ढोंग कर रहा है तो उसके इस ढोंग को समझना चाहिए तथा उचित स्थान पर शिकायत दर्ज करा देनी चाहिए।

 भ्रष्टाचारियों में राजनेता राजनैतिक पार्टियों से जुड़े हुए लोग सरकारी विभागों में  अधिकारी और कर्मचारी व्यवसाय करने वाले पुलिस शिक्षा राजस्व सार्वजनिक निर्माण विभाग परिवहन वन विभाग खनन विभाग पंचायत समितियों के विभाग नगरपालिकाओं के विभाग रेलवे आदि किसी भी जगह काम करने वाले हों,अगर वे भ्रष्टाचार कर रहे हैं धन के लिए काम करने में आनाकानी कर रहे हैं पत्रावलियों को निपटाने में देरी करने वाले हैं तो यह सभी कार्य भर्ष्टाचार के हैं।
इन के विरुद्ध चाहे यह कितने भी प्रभावशाली हो प्रभावशाली का दिखावा कर रहे हो किसी न किसी रूप में लोगों से जुड़कर भ्रष्टाचार कर रहे हों तो भी इन के विरुद्ध आज ही शिकायत दर्ज करवाएं। भ्रष्टाचारियों को कानून के सामने लाने में देरी नहीं की जानी चाहिए।
 आपको इत्मीनान है कि व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह भ्रष्टाचार में लिप्त है तो तुरंत कलम उठाएं।शिकायत लिखें और अपने पास के सरकारी दफ्तर में देदें। सरकार ने भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए विभाग स्थापित कर रखे हैं जहां पर शिकायत की जा सकती है। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो,पुलिस विभाग व इसके अलावा मुख्यमंत्री भ्रष्टाचार निवारण प्रकोष्ठ,राज्य के मुख्य सचिव आदि इनके अलावा संभागीय आयुक्त जिला कलक्टर आपके पास के अतिरिक्त जिला कलक्टर उपखंड अधिकारी राजस्व तहसीलदार आदि को भी लिखित में शिकायत की जा सकती है। जितने प्रमाण आपके पास हों शिकायत के साथ लगा दें और अन्य कोई प्रमाण उपलब्ध नहीं है मगर उसके बारे में जानकारी हो तो उसका उल्लेख शिकायत में कर दें।

अनेक लोग खुद सवाल करते हैं और खुद ही उसका उत्तर निश्चित कर लेते हैं कि शिकायतों के बावजूद कुछ होने वाला नहीं है लेकिन मेरी सोच व अनेक लोगों की सोच यह है कि शिकायत के बाद निश्चित रूप से कार्यवाही होती है। इसमें कुछ समय लग सकता है। संभव है कि भ्रष्टाचारियों बचाने में कुछ अधिकारी-कर्मचारी सत्ताधारी सहयोग करते हैं लेकिन इससे निराश होने की हताश होने की आवश्यकता नहीं है। जो लोग संघर्ष करते हैं उनकी जीत निश्चित रूप से होती है।

सच को कभी भी झुठलाया नहीं जा सकता। पिछले कुछ सालों में लौट कर देखेंगे। अनेक भ्रष्टाचारी चाहे वह सरकार में रहे हों चाहे बड़े व्यवसाई रहे हों आज जेलों में बंद हैं।उनकी पावर उनकी शक्ति और उनका धन दौलत कहीं काम नहीं आया। जो लोग उनको बचाने में थे वे भी सहयोग नहीं कर पाए।

 हमारे देश में अनेक संस्थाएं पूर्ण सच्चाई के साथ कार्य कर रही हैं। आप इनके मददगार हो सकते हैं। स्वच्छ और साफ-सुथरे भ्रष्टाचार मुक्त भारत बनाने के लिए आगे आएं और भ्रष्टाचारियों के विरुद्ध कदम उठाएं। आपके कदम उठाने के बाद अन्य लोग भी आपके साथ जुड़ते चले जाएंगे।

सत्यम् शिवम् सुंदरम्

सत्यमेव जयते

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें