Wednesday, December 28, 2016

श्रीगंगानगर जिले की सीमा पर नग्गी में 1971 के शहीदों कों श्रद्धांजलि:


सन् 1971 के भारत पाक युद्ध के संघर्ष विराम के 10 दिन बाद पाक ने की थी घिनौनी हरकत लेकिन उसे नग्गी पर कब्जा नहीं करने दिया:

 
- करणीदानसिंह राजपूत -
भारत पाक युद्ध सन् 1971 में पाकिस्तान ने बुरी तरह से कई स्थानों पर मात खाई जो इतिहास में उल्लेख है। पाकिस्तान ने उस यद्ध में संघर्ष विराम के बाद नग्गी पर कब्जा करना चाहा। श्रीगंगानगर जिले के श्रीकरणपुर से ऐन सीमा पर नग्गी गांव है। पाक सेना ने संघर्ष विराम के 10 दिन बाद हमला किया तब 27-28 दिसंबर को भारतीय सेना ने उस हरकत का जवाब दिया तथा पाक को कब्जा नहीं करने दिया।
उस लड़ाई में जवाब देते हुए भारतीय सेना के 3 अधिकारियों और 21 सैनिकों ने अपने प्राणों की आहुति दे दी।
सीमा पर उसके बाद शहीद स्मारक बनाया गया।
शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर हर वर्ष शहीदों को याद किया जाता है जिसमें सेना के अधिकारी और जवानों के अलावा नागरिक शामिल होते हैं।
इस बार सेना के अमोघ डिवीजन ने शहीद स्मारक पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद श्रीकरणपुर में शहीदों की स्मृति में रैली निकाली गई जिसमें सेना के जवानों के अलावा स्थानीय नागरिकों ने भाग लिया।








 

No comments:

Post a Comment

Search This Blog