बुधवार, 23 नवंबर 2016

नारायणगढ़ (बुधसिंहवाला) में आयोजित रात्रि चौपाल -



जिला कलक्टर मंगलवार को गांव नारायणगढ़ (बुधसिंहवाला) में आयोजित रात्रि चौपाल में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक किसान के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड होना चाहिए। उसी के अनुरूप खाद का प्रयोग करना चाहिए। किसान को बिना जरूरत अंधाधुंध खाद नही डालनी चाहिए। गांव नारायणगढ़ में 1440 किसानों ने मृदा स्वास्थ्य कार्ड बनाये है। जिला कलक्टर ने कहा कि किसान अपनी बेटियों को कृषि विषय की पढ़ाई करवावें। 12 वीं कक्षा में अध्ययनरत छात्रों को 5 हजार रूपये, कृषि में स्नातक करने पर प्रतिवर्ष 12 हजार रूपये तथा पीएचडी करने पर 15 हजार रूपये प्रतिवर्ष प्रोत्साहन राशि दी जायेगी। 

 
जिला कलक्टर ने विधुत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि गांव में कम वोल्टेज की समस्या तथा एक गांव में फॉल्ट आने पर सभी गांव की विधुत लाईन बंद करने की समस्या का समाधान किया जाये तथा कही भी ढ़ीले तार है, उन्हें ठीक किया जाये। ग्रामीणों ने हड्डारोहड़ी नही होने की समस्या बताई। जिला कलक्टर ने कहा कि जो व्यक्ति एक बीघा भूमि हड्डारोहड़ी के लिये दे रहा है। उसे तहसील कार्यालय में बंटवारां की प्रक्रिया पूर्ण कर आवश्यक कार्यवाही कर दी जायेगी। जिला कलक्टर ने राजस्व अधिकारियों व पटवारियों को निर्देश दिये कि खाता विभाजन अधिकतम किये जाये। कही आम रास्तों की समस्या हो, उसे निपटाया जाये तथा नामांतरण के कार्य किये जाये। विधालय में अध्ययन कक्षों की आवश्यकता बताने पर जिला कलक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्रा जनसहभागिता योजना में तीन अध्ययन कक्षों का निर्माण करवाया जायेगा। ग्रामीण अपनी सहयोग राशि जमा करवा देवें। 
योजनाओं की दी जानकारी
रात्रि चौपाल में नरेगा योजना, पेंशन योजना, विधवा पेंशन, पालनहार योजना की जानकारी दी गयी। अधिकारियों ने बताया कि श्रमिक पंजीयन के लिये किसी भी ई-मित्रा पर 85 रूपये का शुल्क देकर ऑनलाईन आवेदन किया जा सकता है। इस योजना के तहत शुभशक्ति योजना तथा श्रमिकों को मिलने वाले लाभ के बारे में बताया गया। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राजकीय चिकित्सालयों के अलावा 25 निजी चिकित्सालयों में इस योजना के तहत भामाशाह योजना में निशुल्क उपचार किया जा रहा है। मुख्यमंत्रा राजश्री योजना में बच्ची के जन्म से लेकर 12 वीं कक्षा तक 50 हजार रूपये की राशि देने का प्रावधान है। 


रात्रि चौपाल में एसडीएम सादुलशहर, महिला एवं बाल विकास की क्षेत्राय उपनिदेशक ऋषिबाला श्रीमाली, पेयजल के अधीक्षण अभियंता श्री ताराचंद राजदीप तथा सरपंच श्री गुरसेवक सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं ग्रामीण उपस्थित थे।
-----------

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें