सोमवार, 18 जुलाई 2016

घडसीसर गांव में शराब ठेके को सदा सदा के लिए हटा कर दम लेगे


घडसीसर गांव शराब के विरुद्ध है फिर भी सरकार द्वारा यहा शराब ठेका आवंटित

सरदारशहर ।
      सरदारशहर  पहुँचते ही जस्टिस फॉर छाबड़ा जी संगठन की संयोजक पूनम अंकुर छाबड़ा का SBT कॉलेज पर छात्रों ने गर्म जोशी से स्वागत किया। तहसील के घडसीसर गांव में  शराब बंदी के पक्ष में आयोजित विशाल जन सभा को संबोधित करते हुए जस्टिस फाॅर छाबडा जी संगठन सयोजंक पुनम अंकुर छाबडा ने कहा कि प्रदेश का समुचित विकास तभी संभव है जब प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी लागु होगी वही घडसीसर को प्रदेश का आदर्श गांव बताते पुनम अंकुर ने कहा कि गांव में सम्पूर्ण शराब बंदी है कोई शराब पिता पाया जाता है तो दण्डित किया जाता है और पुरा गांव शराब के विरुद्ध है फिर भी सरकार द्वारा यहा शराब ठेका आवंटित करना सरकार की गलत जन विरोधी नितियो का जिता जागता सबुत है । पर यहा के जागरुक निवासियों ने अब ठान लिया है इस ठेके कोई सदा सदा के लिए हटा कर दम लेगे । अपने चुनावी वादे में गुजरात मॉडल को  प्रदेश सरकार व् केंद्र सरकार दोनों ने जुमला बना कर जनता को ठग लिया। अब न तो दोनों सरकारें शराब बंदी कर रही है न ही विकास कर पा रही है।
   टीम छाबडा कि सयोजंक पुनम अंकुर छाबडा के जयपुर से अपने वादे के मुताबिक भंयकर बारिश और तुफान को चीरते हुए  गांव में पहुचने पर भंवर लाल पारिक पूर्व संरपच, लियाकत अलि , लक्षमण राम , श्याम सिंह, मदन लाल , तोलाराम , हनुमान राम , राधेश्याम पारिक सहित सेकडो लोगों ने माल्यार्पण कर स्वागत किया और विधालय प्रांगण में आयोजित सभा में महिलाओं सहित हजारो लोगों की मोजुदगी में नशा मुक्ति का संकल्प लेते हुए जस्टिस फाॅर छाबडा जी टीम सरदारशहर का गठन कर श्याम सिंह को अध्यक्ष मनोनीत किया गया इस अवसर पर प्रधान प्रवक्ता भैरु सिंह राजपुरोहित , युवा प्रदेश अध्यक्ष विष्णु तिवाडी , चुरू अध्यक्ष कपिल भाटी , रतनगढ अध्यक्ष राजेंद्र भांभु , मुकेश जागीड , ललित सिंह , तोलाराम पारिक ने भी संबोधित किया ।
   बाद में बंधडाऊ , अडसीसर,संवाई , गारबदेसर में भी शराब बंदी जन जागृति सभा का आयोजन हुआ जिसमे भी गांव वासियों ने जस्टिस फाॅर छाबडा जी संगठन की सयोजंक पुनम अंकुर छाबडा का स्वागत किया और सदस्यता ग्रहण कर संगठन के साथ मिलकर प्रदेश को शराब मुक्त करवाने का संकल्प लिया ।इस अवसर पर अंकुर छाबडा पुत्र शहीद स्व श्री गुरशरण जी छाबडा पूर्व विधायक ने कहा कि उनका एकमात्र लक्ष्य अपने पिताजी द्वारा शराब बंदी के लिए दि गई शहादत को मजींल तक पहुचाकर प्रदेश को पूर्ण शराब मुक्त करवाना है ।



कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें