Thursday, March 3, 2016

इंदिरागांधी नहर के कानौर हैड पर बेमियादी धरना शुरू:


टिब्बा संघर्ष समिति द्वारा ऐटा सिंगरासर माईनर बजट की मांग:
सूरतगढ़,3 मार्च 2016.
इंदिरागांधी नहर के प्रथम चरण के सूरतगढ़ तहसील टिब्बा क्षेत्र के ग्रामों में सिंचाई सुविधा के लिए ऐटा सिंगरासर माईनर के निर्माण वास्ते इसी चालू विधानसभा सत्र में बजट उपलब्ध कराने की मांग को लेकर टिब्बा संघर्ष समिति ने कुछ दिन पूर्व की बेमियादी धरने की घोषणा के अनुसार आज से बेमियादी धरना शुरू कर दिया। 
प्रथम दिन कांग्रेस के बलराम वर्मा,गगनदीपसिंह विडिंग बसपा के पवन सोनी,श्रवण सिंगाठिया,अमित कल्याणा,राधेश्याम उपाध्याय,ओमप्रकाश गेदर, राकेश बिश्रोई आदि कई लोग सैंकडों किसानों के साथ धरने पर बैठे।
इस माइनर का सबसे पहले नारा देते हुए संघर्ष राजेन्द्र भादू ने शुरू किया व कानौर हैड पर आंदोलन शुरू किया। भादू उस समय आजाद थे। इस नारे को कांग्रेस के गंगाजल मील ने 2008 में भादू से पहले शुरू कर कब्जा जमाया और तूफानी प्रचार करके विधायक बन गए। 22 करोड़ रूपए बजट उपलब्ध कराने का प्रचार होता रहा। 2013 में भादू को भाजपा ने चुनाव मैदान में उतारा। राजेन्द्र भादू विधायक चुन लिए गए। भादू ने अपने बयानों में मील के बयान का खंडन किया। भादू का आरोप रहा कि बजट उपलब्ध कराया ही नहीं गया। अब भादू के विधायक काल के 2 साल बीत जाने पर कुछ होता हुआ नहीं पाए जाने पर इस माईनर के लिए एक संघर्ष समिति बनाई गई।
इस संघर्ष समिति के बैनर तले बेमियादी धरना शुरू हुआ है। 
इसका कितना प्रभाव पड़ेगा और सरकार पर यह समिति कितना दबाव डाल सकेगी? यह कुछ दिन बाद ही मालूम हो पाएगा।




No comments:

Post a Comment

Search This Blog