Friday, March 11, 2016

लोकतंत्र रक्षा मंच प्रतिनिधि राज्यपाल से मिले:आपातकाल शांतिभंग बंदी पेंशन मामला:


जयपुर , 10 मार्च। लोकतंत्र रक्षा मंच ने राज्यपाल कल्याण सिंह से आग्रह किया है कि आपातकाल के दौरान मीसा एवं डीआईआर के अलावा 107 व अन्य धाराओं में बंद रहे सत्याग्रहियों को समान सुविधा दिलवाने के लिए राज्य सरकार से बात करें। प्रतिनिधिमंडल ने राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात में यह आग्रह किया।
राज्यपाल ने भरोसा दिलाया है कि वे इस विषय को देखेंगे और उसके बाद सरकार से बात भी करेंगे। प्रतिनिधिमंडल के सदस्य आपातकाल विजय दिवस 20 मार्च को उदयपुर में मंच के प्रदेश सम्मेलन में राज्यपाल को मुख्य अतिथि के रूप में आने का आग्रह करने के लिए उनसे मिले थे। राज्यपाल ने प्रसन्नता जाहिर की कि मंच इस तरह का आयोजन कर रहा है। उन्होने कहा कि वे खुद भी लोकतंत्र सेनानी रहे है और उनकी इच्छा भी है कि वे इसमें हिस्सा लें लेकिन उसी दिन राष्ट्पति के राजस्थान दौरे के कारण आने में समर्थ नहीं रहेंगे। उन्होने प्रतिनिधिमंडल को आयोजन की शुभकामना दी। प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने लोकतंत्र सेनानी सम्मान अधिनियम पारित किया है। ऐसा अधिनियम राजस्थान में भी पारित होना चाहिए। राज्यपाल ने कहा कि वे अधिनियम की प्रति मंगवाकर उसका अध्ययन करेंगे और उसके बाद राजस्थान सरकार से बात करेंगे।
 राज्यपाल से मिलने वालों में मंच के प्रदेश मंत्री देवराज बोहरा, उपाध्यक्ष राजेन्द्र डेरेवाला, जिला अध्यक्ष बालगोपाल गुप्ता, कोटा संभाग प्रभारी बालचंद गर्ग, प्रवक्ता जुगल तापडिय़ा व राजेन्द्र राज शामिल थे। 



No comments:

Post a Comment

Search This Blog