Sunday, January 3, 2016

राजस्थानी उपन्यास खिन्डता मोती का विमोचन


सूरतगढ़ 4 जनवरी- पांच दिवसीय पुस्तक प्रदर्शनी व साहित्यिक आयोजन की कड़ी में दूसरे दिन आकाशवाणी के वरिष्ठ उदघोषक बीरू राम चावरियां के राजस्थानी उपन्यास खिन्डता मोती का विमोचन कार्यक्रम हुआ।
 विमोचन समारोह की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार करणीदानसिंह राजपूत ने की एवं अध्यक्षीय उदबोधन में इस उपन्यास में ग्रामीण अंचल की सभ्यता व संस्कृति की बारीकियों के उल्लेख की सराहना की।
मुख्य अतिथी डाक्टर जितेन्द्र बोगिया ने कहा कि उहोंने पत्र वाचव को सुना है और इसमें बखान हुई विशेषताओं को ध्यान में रखते हुए चाहेंगे कि इससे समाज में नई करवट आएगी।
इस कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि मनोजकुमार स्वामी व प्रहलादराय पारीक थे। उपन्यास पर पत्र वाचन मांगीलाल शर्मा ने किया। बलराम कुक्कडवाल ने कार्यक्रम  का  संचालन किया।
कार्यक्रम को सांस्कृतिक आयाम देते हुए हरीश स्वामी, इन्द्र सैन सिंह बैंस, रेणु स्वामी ने गीत प्रस्तुत किए।
मंचासिन अतिथियों के अलावा राजेश चावरियां व डूंगर राम गेधर ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए खिंडता मोती उपन्यास को राजस्थानी भाषा का सशक्त उपन्यास बताया।

No comments:

Post a Comment

Search This Blog