शुक्रवार, 18 दिसंबर 2015

सिंगरासर माईनर:माँग नहीं हमारा हक है-राजेन्द्र भादू का मील पर वार:

राजेन्द्रसिंह भादू ने कहा पिछली सरकार ने कुछ नहीं लगाया,बजट ही स्वीकृत नहीं किया:

विधायक भादू की प्रेसवार्ता: 16 दिसम्बर 2015.
सूरतगढ़। विधायक राजेन्द्रसिंह भादू ने सिंगरासर माइनर के निर्माण बाबत पूछे गए सवाल के जवाब में पिछली सरकार पर दोषारोपण करते हुए बिना नाम लिए मील पर निशाना साधा।
सीमांत रक्षक के संपादक सत्यपाल मेघवाल ने पूछा कि सिंगरासर माइनर का आंदोलन आपने चलाया और अब वह भूल गए क्या? क्या हुआ सिंगरासर माईनर की मांग का?
भादू ने जवाब दिया कि सिंगरासर माइनर हमारी मांग नहीं अधिकार है। बारानी इलाके में सिंचाई हो यह हक है जिसे किसी भी हालत में छोड़ा नहीं जा सकता और न हमने इसे छोड़ा है।
भादू ने कहा कि सिंगरासर माइनर का आँदोलन आप सभी पत्रकारों के सहयोग से ही लड़ा गया था और सफल रहा था।
भादू ने कहा कि पिछली सरकार ने न वहां कोई पैसा लगाया न कोई बजट स्वीकृत कराया। केवल वाहवाही लूटी। सिंगरासर माइनर के सर्वे आदि की सभी रिपोर्टें मेरे पास पड़ी है।
विगत में सूरतगढ़ के विधायक गंगाजल मील ने कहा था कि भाजपा ने केवल बयान ही दिए तथा अशोकजी की कांग्रेसी सरकार ने करोड़ों रूपए का बजट उपलब्ध करवा दिया।
मील ने भादू की जीत के बाद भी बयान दिया था कि मेरे कार्यकाल में बजट स्वीकृत हुआ और अब मेरा दावा है कि वर्तमान विधायक एक ईंट भी नहीं लगायेगा।
::::::::::::::::::::::::::

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें