शुक्रवार, 6 नवंबर 2015

वसुंधरा पहुंची छाबड़ा निवास:छाबड़ाजी का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा-परिवारजन:


वसुंधरा राजे संवेदना व्यक्त करने पहुंची-साथ में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी थे:
-स्पेशल न्यूज -
सूरतगढ़ 6 नवम्बर 2015.
राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे गुरूशरण छाबड़ा के संसार छोडऩे के चौथे दिन संवेदना व्यक्त करने उनके निवास पर पहुंची और करीब पैंतालीस मिनट छाबड़ा के परिवार जानों के साथ रहीं। गुरूशरण छाबड़ा आमरण अनशन जारी रखते हुए 3 नवम्बर प्रात: संसार छोड़ गए थे। वसुंधरा राजे के साथ भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी भी थे।
छाबड़ा जी के पुत्र गौरव छाबड़ा व पुत्र वधु पूजा छाबड़ा वहां थे।
छाबड़ा परिवार ने कहा कि छाबड़ा जी का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।
जयपुर में आज काली पट्टियां मुंह पर लगा कर जूलूस निकाला गया और कहा गया कि गुरूशरण छाबड़ा की राजस्थान की सरकार ने हत्या की है।
छाबड़ा जी 2 अक्टूबर से पूर्ण गांधीवादी तरीके से सत्याग्रह के रूप में आमरण अनशन पर बैठे थे। उनकी मांग थी कि राजस्थान में संपूर्ण शराबबंदी लागू की जाए और सशक्त लोकपाल नियुक्त का कानून बनाया जाए।
छाबड़ा जी का मानना था कि भ्रष्टाचार और शराब दोनों से गरीब दलित व महिलाएं पीडि़त हो रहे हैं।
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::3

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें