शनिवार, 18 जुलाई 2015

ललित मोदी बटन दबाते हैं और वसुंधरा कूदने लगती हैं-राहुल


टिप्पणी-हाय। ललित मोदी ने कांग्रेसियों के खजानों में क्यों नहीं डाला?
- करणीदानसिंह राजपूत -
राहुल गांधी जयपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधन में जो बोले। वे शब्द अनजाने में मुंह से निकले हुए नहीं लगते। कांग्रेस ने भाषणों में हमला करने के लिए वसुंधरा राजे और ललित मोदी को पकड़ रखा है।
राहुल ने जयपुर में भाषण दिया। उसके शब्द काफी तेज वार वाले थे।
राहुल ने कहा ललित मोदी बटन दबाते हैं और वसुंधरा राजे यहां कूदने लगती हैं।
इसके बाद खुलासा करते हुए कहा। यहां की सरकार का रिमोट ललित मोदी के पास में है वह इंग्लैंड में बटन दबाते हैं और राजस्थान की सरकार चलाते हैं। राहुल ने कहा यहां वसुंधरा की सरकार नहीे है,यहां ललित मोदी की सरकार है।
उन्होंने और वार करते हुए कहा कि ऐसा क्यों न हो? आखिर ललित मोदी ने उनके बेटे के रेस्टोरैंट में रूपए लगाए हैं।
राहुल ने वसुंधरा राजे पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि लललित मोदी के लिए वसुंधरा राजे ने जो शपथपत्र दिया जिसमें लिखा कि इसे हिन्दुस्तान की सरकार को न बतलाया जाए। यह मामला गंभीर है।
वसुंधरा राजे को इतना आगे जाकर लिखने की नौबत क्यों आई?
शपथपत्र में उनका सहयोग देना ही काफी था फिर इसके आगे लिखने का क्या कारण हो सकता है?
1.वसुंधरा राजे ने ललित मोदी की पत्नी को अपनी बहन सरीखी सखी मानते हुए यह लिखा।
2.ललित मोदी ने वसुंधरा राजे को अपनी पत्नी की सखी मान कर बहुत बड़ी रकम शेयर के माध्यम से वसुंधरा के पुत्र के होटल में लगाई।
3.वसुंधरा राजे व ललित मोदी के वर्षों के मित्र संबंध रहे हैं और पहले किसी का इस ओर ध्यान भी नहीं था। कांग्रेस भी ध्यान नहीं रख रही थी।
अब कांग्रेस वसुंधरा राजे और ललित मोदी के मित्र संबंधों को तूल देने में लगी है।
क्या इसका कारण यह तो नहीं है कि ललित मोदी ने वसुंधरा राजे के पुत्र के होटल में तो करोड़ों रूपए लगा दिए और बड़े बड़े कांग्रेसियों के खजाने खाली रह गए। अब खाली खजानों को देख कर अपने पेट पीट रहे हैं कांग्रेसी नेता और उनके विलाप का फीड बैक लेकर भाषण दे रहे हैं राहुल गांधी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

यह ब्लॉग खोजें