Saturday, November 30, 2013

चुनाव प्रचार:अजब गजब तरीके

रपट-करणीदानसिंह राजपूत

सिर के केश अजब कटवाए
सूरतगढ़, 30 नवम्बर 2013. लोगों ने चुनाव प्रचार और मत मांगने तथा समर्थन के अजब गजब तरीके निकाले हैं कि पार्टियां,प्रत्याशी और लोग आश्चर्य चकित हो रहे हैं।
राजस्थान पत्रिका दिनांक 30 नवम्बर श्रीगंगानगर  संस्करण में एक फोटो समाचार छपा है। बहुजन समाज पार्टी यानि कि बसपा के लिए समर्थन की घोषणा सिर की अनोखी हजामत करवा कर की जा रही है। केश इस तरह से काटे गए हैं कि उनमे बसपा का चुनाव चिन्ह हाथी और अग्रेजी में बीएसपी लिखा हुआ साफ नजर आता है।




-----------------------------

मूढ़े नए लगाने हैंसूरतगढ़: यहां संदेश चल रहे हैं कि मूढ़े बदलने नहीं हैं,मूढ़े नए लगवाने हैं।
यहां पर कांग्रेस की तरफ से विधायक चौधरी गंगाजल मील दुबारा चुनाव लड़  रहे हैं तथा भाजपा ने चौधरी राजेन्द्र भादू को चुनाव में उतारा है। बसपा की ओर से डूंगर राम गेधर चुनाव में हैं।
मूढ़े बदलने का अर्थ यह है कि कांग्रेस के चौधरी के मूढ़े पर बैठना बंद कर भाजपा के चौधरी के मूढ़े पर बैठना है।
मूढ़े नए लगवाना या नए मूढ़े पर बैठना है का मतलब है कि इन दोनों चौधरियों को साथ नहीं देना है। मतलब है कि ना मूढ़े यानि कि बसपा के साथ चलना है और डूंगर राम गेधर को वोट देना है।
------------

No comments:

Post a Comment

Search This Blog